बेनीवाल का आरोप- चिंतन शिविर के बीच साजिशन उपमुख्य सचेतक ने कराया कारोबारी की हत्या

The Fact India: राजस्थान के नागौर में नमक कारोबारी जयपाल पूनिया(Jaipal Poonia) की हत्या से सियासी पारा गरमा गया है. नावां तहसील में हुए हाई प्रोफाइल मर्डर मामले में सरकारी उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज़ होने के बाद इस प्रकरण में सियासी उबाल भी आ गया है. हत्यारों को गिरफ्तार करने और परिजनों को न्याय दिलाने सहित विभिन्न मांगों के समर्थन में ना सिर्फ भाजपा, बल्कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने भी आंदोलन को समर्थन दिया है. खुद नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल भी सड़क पर उतर गए.. और सीबीआई जांच की मांग कर डाली.

सांसद बेनीवाल ने कहा- जयपाल पूनिया (Jaipal Poonia) को पिछले 3 साल में झूठे मुकदमों में फंसाया गया. उसकी हिस्ट्रीशीट खोली गई. जयपाल मेरे पास भी आता था और कहता था कि भाईसाहब MLA उसका एनकाउंटर करवा देगा. उन्होंने कहा कि जयपाल का मर्डर एक सोची-समझी साजिश है. मर्डर की प्लानिंग बहुत पहले तैयार कर ली गई थी.

बेणेश्वर धाम से राहुल ने मोदी पर साधा निशाना, कहा- ये कर रहे आदिवासियों को मिटाने का काम

हनुमान बेनीवाल ने कहा- सोचे-समझे प्लान के मुताबिक कांग्रेस के चिंतन शिविर के समय खुद MLA चौधरी दिखावटी रूप से बीजी हो गए। अपने परिवार को बाहर भेज दिया। इसके बाद दिनदहाड़े भाड़े के बदमाश बुलाकर जयपाल की निर्मम हत्या करा दी। नावां MLA महेंद्र चौधरी ने नावां की जनता को मैसेज दिया है कि अब तक तो उसने सरकार के दम पर जनता को लूटा है और कोई उसके खिलाफ बोलेगा तो अब उसे जान से भी हाथ धोना पडे़गा.

11 Views