भाजपा नेता का बड़ा हमला, बोले- कांग्रेस का चिंतन नहीं ‘चिंता’ शिविर था

The Fact India: राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव होने है.. लिहाजा ऐसे में सियासी भाग दौड़ के साथ बयानबाजी भी तेज हो गई. कांग्रेस चिंतन के बाद अब अपने कुनबे में फिर जान फूकने की कोशिशों में जुट गई है.. तो वहीं भाजपा भी एक्टिव मोड में आ गई है. पिछले दिनों हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे के बाद अब महामंथन होगा.

इसी बीच जयपुर आए भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री तरुण चुघ (Tarun Chug) ने कांग्रेस के चिंतन शिविर पर सियासी वार किया है. चुघ ने कहा कि यह कांग्रेस की चिंतन नहीं ‘चिंता’ शिविर था. एक परिवार के हाथ से सत्ता की रेत निकल रही है, उसको कैसे जकड़ा जाए। इस पर चिंतन-चिंतन खेला गया. उन्होंने कहा कि चिंतन शिविर में देशहित में कोई फैसला नहीं हुआ। पिछले 3 साल में कांग्रेस पार्टी कहां थी. कांग्रेस अब तक अपना पूर्णकालिक अध्यक्ष तक नहीं बना पाई। चुघ ने राजस्थान भाजपा में चेहरे की लड़ाई से इनकार किया और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कमल का निशान ही भाजपा का चेहरा है.

वसुंधरा का विरोधियों पर निशाना- जिन पत्थरों को हमने दी थी धड़कने, जुबां मिली तो वो हम पर ही बरस पड़े

उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि बैठक में खुद राहुल गांधी ने माना है कि कांग्रेस पार्टी जनता से दूर जा चुकी है. हैरान हूं कि 400 नेता इस बात को जानने के लिए एक साथ जुटे. अगर देश के आम नागरिक से जाकर पूछते तो पता चल जाता कि 2014 से कांग्रेस डिब्बा गोल हो चुका है. इस समयावधि में 36 चुनाव कांग्रेस हार चुकी है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का तीन बार राजस्थान आना बता रहा है कि राजस्थान का मौसम बदल रहा है.

भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक को लेकर चुघ ने कहा कि राजस्थान में यह बैठक होना अहम बात है. राजस्थान भाजपा के लिए बड़ा लकी प्रदेश है। यह बैठक इसलिए भी अहम हैं क्योंकि इस महीने मोदी सरकार के 8 साल पूरे होने वाले हैं. 20 को होने वाली बैठक में देशभर के राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेशाध्यक्ष और संगठन मंत्री शामिल होंगे. इससे पहले 19 मई को पार्टी के राष्ट्रीय मंत्रियों की होगी बैठक। साथ ही राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जयपुर में बड़ी प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे.

10 Views