HPCL के एरिया मैनेजर के बाद एसीबी ने दो सेल्स ऑफिसर को दबोचा, पूछताछ जारी

The Fact India: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB big action) ने रविवार को एक बड़ी कार्यवाही करते हुए रिश्वत के मामले में एचपीसीएल के कोटा एरिया मैनेजेर को गिरफ्तार किया था. इस मामले में एक एजेंट को भी गिरफ्तार किया गया था. जिसके बाद आगे कार्यवाही करते हुए कई और जगह छापे मारे थे जिसमें एसीबी को कामयाबी मिली है.

एजेंट किशन विजय की गाड़ी जब्त

राजेश कुमार सिंह पर एचपीसीएल कोटा डीवीजन के डीजीएम है. उन्होनेंं विभिन्न पेट्रोल पंप मालिकों से दलालों के माध्यम से रिश्वत लेने का आरोप है. दीक्षा पेट्रोल पंप के मालिक प्रदीश वर्मा से उनके पंप पर अनियमितताओं की अनदेखी के लिए 100000 रुपए प्राप्त किए और तीन दिन की एसीबी की रिमांड पर लिया गया है. बता दे, कि मौके से एजेंट किशन विजय की कार सिलेरिया भी जब्त कर ली गई है और बजरंग पेट्रोल पंप अलीगढ़ के मालिक किशन विजय राजेश के दलाल के रुप में काम करते थे. प्रदीश वर्मा से अपने भतीजे कपिल विजय के माध्यम से 200000 रुपए एकत्र किए और कपिल विजय के साथ जयपुर में राजेश को सौंपने गए. एक लाख ही सौंपे एक लाख वापस ले आए. एसीबी ने रिमांड पर लिया है .अविनाश की गाडी क्रेटा को भी जब्त कर लिया गया.

केंद्र सरकार पर फिर बरसे राहुल, कहा- मोदी सरकार की यह क्रूरता है

सवाईमाधोपुर और अजेमर सेल्स ऑफिसर पर हुई कार्रवाई

सवाईमाधोपुर में एचपीसीएल के सेल्स ऑफिसर वंदित कुमार के घर पर भी सर्च कार्रवाई की गई है. जहां से एसीबी को बड़ी सफलता हाथ लगी है. वंदित कुमार के घर से 2.82 लाख नगद तथा भारी मात्रा में प्रोप्रटी पेपर्स जब्त किये गए है. सेल्स ऑफिसर को अभी पूछताछ के लिए डिटेन किया गया है.निवाई के दीक्षा पेट्रोल पंप से भी महत्वपूर्ण दस्तावेज जब्त किए गए है वही पेट्रोल पंप के मालिक प्रदीश वर्मा से पूछताछ की जा रही है. अजमेर में सेल्स ऑफिसर अजय सिंह का घर भी सिल किया गया है.