Admission : 27 जून से शुरू होंगे स्कूल-कॉलेजों में एडमिशन

The Fact India : राजस्थान में एक तरफ मानसून शुरू होने से लोगों को गर्मी से राहत मिलनी शुरू हो गई है. तो वहीं दूसरी तरफ बच्चों के भविष्य को लेकर परिजन भी उत्साहित होते नजर आ रहे है. जैसे ही जुलाई का महीना नजदीक आ रहा है, बच्चों के चेहरे पर कमल जैसी मुस्कान देखने को मिल रही है. बच्चें स्कूल-कॉलेजों में जाने के लिए बड़े लालाहित और प्रफ्फुलित होते नजर आ रहे हैं. 2 साल से कोरोना जैसी भयानक बीमारी के चलते बच्चों की पढाई का काफी नुकसान देखने को मिला है, लेकिन इस बार कोरोना के मामले कम होने की वजह से स्कूल कॉलेजों की प्रक्रिया पहले की तरह शुरू की जा रही है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि स्कूल एडमिशन (Admission) की प्रक्रिया कब से शुरु होने जा रही है, कब से बच्चों के सिलेबस पढ़ाना  शुरू किया जायेगा. अगर आप नहीं जानते हैं,  तो चलिए आपको बता दें.

Vastu Tips : घर में इन जगहों पर भूलकर भी न रखें चाबियां

राजस्थान के उच्च शिक्षा मंत्री राजेंद्र यादव ने बताया है कि सरकारी और प्राइवेट कॉलेज में 27 जून से एडमिशन की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है. हायर एजुकेशन डिपार्टमेंट की गाइडलाइन के मुताबिक 12वीं पास स्टूडेंट्स फर्स्ट ईयर में एडमिशन 9 जुलाई तक अप्लाई कर सकेंगे. जिसके बाद सिलेक्ट स्टूडेंट्स की फाइनल लिस्ट  13 जुलाई को जारी की जाएगी. 20 जुलाई से प्रदेश के 450 से ज्यादा सरकारी और दो हजार से ज्यादा प्राइवेट कॉलेज में ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड पर पढ़ाई शुरू हो जाएगी. साथ ही अगर CBSE 12th का रिजल्ट जल्द जारी नहीं हुआ तो फिर  पिछले सालों के आंकड़ों के आधार पर CBSE स्टूडेंट्स के लिए कॉलेज की सीट का विशेष कोटा बनाया जाएगा.  राजस्थान में इस साल भी कॉलेजों में एडमिशन 12वीं कक्षा के पर्सेंटेज के आधार पर होंगे. 

भारतीय सेना, केन्द्रीय सशस्त्र बल के कर्मचारियों और पूर्व कर्मचारियों के बच्चों के लिए 3% सीटें आरक्षित थी, इनमें अब राजस्थान पुलिस कर्मियों के बच्चों को भी जगह मिलेगी. कोरोना की वजह से जिन स्टूडेंट्स के पेरेंट्स की मौत हुई है,  उन्हें मिनिमम मार्क्स के आधार पर फ्री एडमिशन (Admission) दिया जाएगा.  इसके साथ ही उन्हें हॉस्टल की सुविधा भी फ्री मिलेगी.  UGC के नियमों के मुताबिक जो कॉलेज ऑनलाइन एजुकेशन के लिए माननीय नहीं है, उनकी डिग्रियों के आधार पर भी राजस्थान के कॉलेज में एडमिशन नहीं दिया जाएगा. आयुक्त कॉलेज शिक्षा विभाग शुचि त्यागी ने बताया कि  पहले जो पर्सेंटेज सिस्टम को हटाकर पर्सेंटाइल सिस्टम के आधार पर एडमिशन प्रक्रिया शुरू की  उसे अब हटा दिया है और फिर से कॉलेजों में एडमिशन पर्सेंटेज के आधार पर ही दिया जाएगा. 

143 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.