बिहार में 15 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान, जरूरी सेवाओं पर छूट

Lockdown on Uttar Pradesh
Lockdown on Uttar Pradesh

The Fact India : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र 15 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन (Lockdown) का ऐलान कर दिया है. इस दौरान सिर्फ जरूरी सेवाएं ही चालू रहेंगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा कि सहयोगी मंत्रीगण एवं पदाधिकारियों के साथ चर्चा के बाद बिहार में फिलहाल 15 मई, 2021 तक लॉकडाउन लागू करने का निर्णय लिया गया. इसके विस्तृत मार्गनिर्देशिका एवं अन्य गतिविधियों के संबंध में आज ही आपदा प्रबंधन समूह को कार्रवाई करने हेतू निदेश दिया गया है.

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई

लॉकडाउन (Lockdown) कितनी सख्ती से लागू होगा और इसके लिए क्या दिशा-निर्देश होंगे ये कुछ घंटों बाद गृह विभाग द्वारा जारी कर दिए जाएंगे. फिलहाल मिल रही जानकारी के मुताबिक जरूरी सेवाओं को छूट होगी और बाकी लोगों के लिए ई-पास जारी किए जा सकते हैं. साथ ही लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी.

हाईकोर्ट ने सरकार को आड़े हाथों लिया

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ये फैसला बिहार सरकार के बड़े अधिकारियों और आपदा प्रबंधन समूह की बैठक के बाद लिया है. इससे पहले पटना हाईकोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए सरकार से सवाल किया था कि आखिर वह कब से लॉकडाउन लागू करने पर विचार कर रही है. कोर्ट ने स्पष्ट पूछा था कि सरकार 4 मई यानी आज बताए कि राज्य में लॉकडाउन क्यों नहीं लगाया जा रहा है.

सरकार देगी कोर्ट को जवाब

हाईकोर्ट में आज सरकार को जवाब देना है कि केंद्रीय कोटा से मिले रोजाना 194 टन की जगह मात्र 160 टन ऑक्सीजन क्यों ली जा रही है, क्या अब अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी नहीं है? इसके अलावा कोर्ट ने पूछा है कि राज्य में कोरोना संक्रमण को लेकर कोई एडवाइजरी कमेटी, वार रूम तक नहीं बना है. ऐसे में सरकार इस आपदा से कैसे निपटने पर विचार कर रही है.