बंगाल के सांसद बाबुल सुप्रियो ने लिया संयास, सोशल मीडिया के जरिए दी जानकारी

The Fact India: पूर्व केंद्रीय मंत्री व बंगाल की आसनसोल सीट से भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) ने राजनिति को अलविदा कह दिया. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिख कर कहा है कि वे राजनिति में सिर्फ समाज सेवा के लिए आए थे. अब उन्होंने अपनी राह बदलने का निर्णय लिया है.

इस फैसले को ‘वो’ समझ जाएंगे

उन्होंने (Babul Supriyo) कहा है कि लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में रहने की जरूरत नहीं है. वे राजनीति से अलग होकर भी अपने उस उदेश्य को पूरा कर सकते हैं. उनकी तरफ से इस बात पर भी जोर दिया गया है कि वे हमेशा से बीजेपी का हिस्सा थे और रहेंगे. वे कहते है कि इनके इस फैसले को ‘ वो’ समझ जाएंगे.

सोशल मीडिया पर किया ये पोस्ट

उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा – सब की बातें सुनीं, बाप, (माँ) पत्नी, बेटी, दो प्यारे दोस्त.. सब सुनकर कहता हूं मैं तो जा रहा हूं.. मैं किसी और पार्टी में नहीं जा रहा. उन्होंने लिखा कि मुझे किसी भी पार्टी की तरफ से फोन नहीं आया. मैं एक टीम का खिलाड़ी हूँ! हमेशा एक टीम का समर्थन किया है. उन्होंने अपने इस्तीफे का ऐलान सोशल मीडिया में एक कविता के रूप में किया. उन्होंने लिखा कि अगर सामाजिक कार्य करना है तो वह राजनीति के बिना भी हो सकता है.बाबुल सुप्रियो ने अपने इस्तीफे में गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का आभार व्यक्त किया और कहा कि दोनों ही लोगों ने कई मायनों में मुझे प्रेरित किया है. मैं उनके प्यार को कभी नहीं भूलूंगा. उन्होंने कहा कि मैं प्रार्थना करता हूं कि वे मुझे गलत नहीं समझेंगे और मुझे माफ कर दें.

कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल की गर्लफ्रेंड अनुराधा चौधरी, काला जठेड़ी के साथ चढ़ी पुलिस के हत्थे

पिछले कुछ समय से लगाई जा रही थी अटकलें

पिछले कुछ समय से अटकलें लगाई जा रही थी कि वे राजनीति से संयास ले सकते और उसका कारण था सोशल मीडिया पर उनके द्वारा किए गए पोस्ट. बाबुल ने फेसबुक पर अपने एक पोस्ट में कहा था -‘मैंने कभी सबको खुश करने के लिए राजनीति नहीं की. यह मेरे लिए संभव नहीं है और मैंने कभी ऐसा करने का प्रयास भी नहीं किया इसलिए मैं सबके लिए अच्छा नहीं बन पाया. बाबुल सुप्रियो ने ऐसे कई और पोस्ट भी किए थे जिन्हें देखकर लग रहा था वे अब राजनीति से खुश नहीं है और जल्दी ही संयास ले सकते है. इस बात पर आज सोशल मीडिया के जरिए उन्होंने मुहर लगा दी.