पंजाब सरकार का बड़ा फैसला, 2 अगस्त से फिर बजेगी स्कूलों की घंटी

school open
school open

The Fact India: देश में कोरोना की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने के बाद अब स्कूलों और कॉलेजों को खोलने (school open)की भी कवायद शुरू हो गई है. इसी क्रम में पंजाब सरकार ने आज बड़ा आदेश जारी किया है. सरकार ने 2 अगस्‍त से सभी कक्षाओं के लिए स्‍कूलों को खोलने की इजाजत दे दी है. हालांकि इसमें कोरोना की गाइडलाइंस का सख्‍ती से पालन करना होगा. स्कूलों में बच्चे अपने अभिभावकों की मर्जी से ही आएंगे और ऑनलाइन कक्षाओं का विकल्प बना रहेगा.

स्‍कूलों को खोलने को लेकर ये है अन्य राज्यों की तैयारी

हरियाणा

हरियाणा में अभी कुछ दिन पहले ही दोबारा स्कूल (school open) खुल गए हैं. सरकारी और निजी स्कूलों में कक्षा नौवीं से 12वीं तक के छात्र पढ़ने के लिए पहुंच रहे हैं. हालांकि स्कूलों में अभी बच्‍चों की उपस्थिति कम है. स्‍कूल आते ही सबसे पहले स्कूल प्रबंधन की ओर से छात्रों को कोविड नियमों का पाठ पढ़ाया गया और फिर सोशल डिस्टेंसिंग से कक्षाएं लगाई गईं.

दिल्‍ली

दिल्ली में स्कूलों को खोलने (school open) के लिए सरकार ने कॉलेज के छात्रों, प्रिंसिपल, शिक्षकों और माता-पिता से सुझाव मांगे हैं. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, ‘दिल्ली में स्कूल और कॉलेज खोलने से पहले मैं स्कूल और कॉलेज के छात्रों, प्रिंसिपल, शिक्षकों और माता-पिता से पूछना चाहता हूं कि क्या अब हमें स्कूल और कॉलेज खोल देना चाहिए? अगर खोलना चाहिए तो आपके इस पर क्या सुझाव हैं? आप अपने सुझाव ‘delhischools21@gmail.com’ पर भेज सकते हैं. आपके सुझाव के आधार पर हम निर्णय लेंगे.’

गुजरात

गुजरात में भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ 9वीं से 11वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल खुल (school open) गए हैं. हालांकि इन कक्षाओं के लिए ऑनलाइन मोड से भी पढ़ाई जारी रहेगी. स्कूलों को निर्देश दिया गया है कि वे कोरोना वायरस महामारी से संबंधित सभी मानक संचालन प्रक्रियाओं या कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें, जैसे कि मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना आदि.

उत्तर प्रदेश

यूपी में 1 जुलाई से ही स्कूल खुल चुके हैं लेकिन छात्रों को स्कूल जाने की इजाजत नहीं है. दरअसल राज्य में स्कूल एकेडमिक कार्यों के लिए खोले गए हैं.

पुडुचेरी

पुडुचेरी में 16 जुलाई से 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को फिर से खोला जाना था लेकिन इस फैसले को वापस ले लिया गया है.