कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए भाजपा और कांग्रेस ने कसी कमर

The Fact India: कोरोना के प्रकोप के बीच राजस्थान में सियासी पार्टियों ने भी कमर कस ली है. प्रदेश में कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए भाजपा और कांग्रेस पूरे जी जान से जुट गई है. जहां भाजपा ने सेवा ही संगठन कार्यक्रम आज से लॉन्च कर दिया है तो वहीं कांग्रेस कार्यकर्त्ता और नेता ब्लक स्तर पर कोरोना सहायता केन्द्र स्थापित करेंगे.

पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा है कि कांग्रेस कार्यकर्ता अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र या डिस्पेन्सरी के साथ समन्वय कर पीड़ितों की सहायता में सेवा भाव से जुटें. कार्यकर्ता यह तय करेंगे कि कोरोना मरीजों को जीवन रक्षक दवाओं, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की कमी ना हो.

राजस्थान में आज सामने आए कोरोना के 12 हजार से ज्यादा मामले, 64 की मौत

डोटासरा के मुताबिक पार्टी कार्यकर्ता महामारी से बचाव के लिए जन जागरुकता अभियान भी चलाएंगे. इस अभियान के माध्यम से प्रदेशवासियों को कोरोना गाइडलाइंस की जानकारी दी जाएगी. कांग्रेस के सभी विधायक और विधानसभा चुनाव लड़े प्रत्याशियों के साथ ही लोकसभा चुनाव लड़े सभी प्रत्याशी अपने-अपने क्षेत्रों में कोरोना सहायता केन्द्रों द्वारा किए जा रहे कार्यों की निगरानी रखेंगे.

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने कार्यकर्ताओं को ‘सेवा ही संगठन’ के तहत फिर से सेवा कार्यों में जुट जाने का आह्वान किया है. उन्होंने एक वर्चुअल बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा राजस्थान के कार्यकर्ता ‘सेवा ही संगठन’ के तहत कोविड की विषम परिस्थितियों में कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए पुनः सेवा कार्यों में जुट जाएं.

पूनिया ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा के निर्देशानुसार कोरोना कालखण्ड में सेवा कार्यों के लिये, कोरोना प्रबंधन में सहयोग करने के लिये पार्टी पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों एवं कार्यकर्ताओं को एक सामाजिक संगठन के तौर पर सक्रियता के साथ कार्य करने की जरूरत है.