कांग्रेस से बागी हुए CM चन्नी के भाई ने अब कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धू पर साधा निशाना

The Fact India: कांग्रेस से बागी होकर पंजाब के फतेहगढ़ साहिब जिले की बस्सी पठाना सीट से निर्दलिय चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके मुख्यमंत्री चन्नी(charanjit singh channi) के भाई ने अब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू(Navjot Singh Sidhu) पर निशाना साधा है. निर्दलिय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने का ऐलान करते हुए डॉ. मनोहर ने कहा कि मैंने मेरिट के आधार पर टिकट की मांग की थी. पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भाई के तौर पर मैंने कोई मांग नहीं की थी. लेकिन आलाकमान की ओर से नजरअंदाज कर दिया गया. डॉ. मनोहर सिंह चन्नी ने कहा कि मैं इसलिए यहां से निर्दलीय ही उतरने का फैसला लिया है क्योंकि लोग ऐसा चाहते हैं. 

उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत पर BJP ने चलाया अनुशासन का चाबुक

आलाकमान को मेरे बारे में किया गया भ्रमित

वहीं सीएम चन्नी(charanjit singh channi) के भाई ने प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू(Navjot Singh Sidhu) पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि आलाकमान को मेरे बारे में भ्रमित किया गया. इसीलिए ऐसी स्थिति पैदा हो गई. नवजोत सिंह सिद्धू उन नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने बिना हाईकमान की परमिशन के ही बस्सी पठानिया में मौजूदा विधायक को ही टिकट दिए जाने का ऐलान कर दिया. मुझे टिकट न मिलने से यहां के लोग निराश हैं. इसके अलावा लोगों के गुस्से की एक वजह यह भी है कि जिसे टिकट मिला है, उसने इलाके में कोई काम नहीं किया है. डॉ. मनोहर ने कहा कि मैं सिद्धू या फिर कांग्रेस से नहीं लड़ रहा हूं, लेकिन मैं जनता की लड़ाई लड़ रहा हूं. 

नरेश टिकैत और केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान की मुलाकात ने बढ़ा दी पश्चिमी यूपी की सियासी तपिश

मुझे नजरअंदाज करना दुर्भाग्यपूर्ण- मनोहर सिंह चन्नी

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी(charanjit singh channi) के भाई ने कहा कि मैंने चन्नी को समझाने का प्रयास किया था कि जो कुछ हुआ है, वह सही नहीं रहा. मैं अब भी आलाकमान का सम्मान करता हूं. कांग्रेस की ओर से वन फैमिली, वन टिकट का फॉर्मूला लागू किए जाने को लेकर भी डॉ. मनोहर ने निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पहले भी ऐसे कई मौके आए हैं, जब कांग्रेस में एक ही परिवार के दो सदस्यों को टिकट दिए गए हैं. लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुझे नजरअंदाज किया.

77 Views