ममता तक पहुंची कोयला घोटाले की आंच, भतीजे अभिषेक के घर पहुंची CBI

Coal scam

The Fact India: कोयला घोटाले (Coal scam) में अब सीबीआई ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. सीबीआई की टीम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के कालीघाट स्थित शांतिनिकेतन हाउसिंग कंप्लेक्स पहुंची है और अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी से पूछताछ करेगी. गौरतलब है कि सोमवार को अभिषेक बनर्जी की साली मेनका गंभीर से लगभग घंटे तक पूछताछ की थी. बता दें कि सीबीआई की टीम पहुंचने के पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अभिषेक के घर गई थीं. ममता बनर्जी के अभिषेक बनर्जी के घर से निकलने के लगभग चार मिनट के बाद सीबीआई की टीम पहुंची.

10 अधिकारियों की टीम पूछताछ में शामिल

गौरतलब है कि सीबीआई ने रविवार को रुजिरा बनर्जी को नोटिस दिया था और पूछताछ की इच्छा जाहिर की थी. उस नोटिस के जवाब में रुजिता बनर्जी ने जवाब भेजा था, जिसमें कहा गया था कि सीबीआई की टीम उनके आवास पर सुबह 11 बजे से 3 बजे के बीच आ सकती है. उसी के मद्देनजर सीबीआई की टीम पूछताछ के लिए पहुंची है. सीबीआई ने पूछताछ के लिए आठ सदस्यीय टीम का गठन किया है. लगभग 10 अधिकारियों की टीम पूछताछ के लिए पहुंचीं.

अभिषेक के आवास पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

मेनका गंभीर से पूछताछ के लिए सीबीआई के सात अधिकारी गए थे. उनकी अधिकारियों को रुजिरा बनर्जी से पूछताछ के लिए भेजा गया है. सीबीआई की टीम अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिता बनर्जी से पूछताछ से मिले तथ्यों का मिलान करेगी और यदि कोई अंतर रहा, तो इस बारे में उनसे पूछताछ करेगी. इस दौरान उनके रुजिरा बनर्जी के वकील भी उपस्थित रहने की संभावना है. इसी बीच, सीबीआई की पूछताछ के मद्देनजर अभिषेक बनर्जी के आवास की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

अभिषेक के करीबी माने जाते हैं विनय मिश्रा

कोयला तस्करी कांड (Coal scam) के आरोपी विनय मिश्रा अभिषेक बनर्जी के करीबी माने जाते हैं. सीबीआई अधिकारियों का कहना है कि विनय मिश्रा टीएमसी नेता और कोयला माफिया लाला के बीच लिंकमैन का काम करता था. सीबीआई को अंदेशा है कि रुजिरा बनर्जी के बैंकांक और लंदन एकाउंट में लेनदेन हुए हैं. यह लेनदेन कोयला तस्करी से जुड़ा हुआ है.