कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस का पैदल मार्च, गहलोत-डोटासरा नहीं हुए शामिल

The Fact India: केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ आज देशभर में कांग्रेस पैदल मार्च निकाल रही है. राजधानी जयपुर में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने मोर्चा संभाला हुआ है. जबकि महेश जोशी ऊंट पर सवारी करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं. इस पैदल मार्च (Foot March) में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ गोविन्द शामिल नहीं हो सके.

दरअसल अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश अनुसार आज कांग्रेस देश भर में कृषि कानूनों और पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ पैदल मार्च (Foot March) निकाल रही है. इसी कड़ी में राजस्थान कांग्रेस भी आज प्रदेश के 33 जिलों में पैदल मार्च निकाल रही है. जयपुर में भी पीसीसी मुख्यालय से लेकर गलता गेट तक पैदल मार्च निकाला गया.

पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों पर सीएम गहलोत ने पीएम मोदी को घेरा

इस मार्चा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भी शामिल होना था. लेकिन निति आयोग की बैठक में शामिल होने के चलते सीएम गहलोत इस मार्च में शामिल नहीं हो सके. जबकि पीसीसी चीफ भी इस पैदल मार्च में नहीं पहुंचे. डोटासरा की तबियत नासाज बताई जा रही है. वहीं पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी पदयात्रा में शामिल नहीं हुए. पायलट अपनी साप्ताहिक यात्रा पर दिल्ली है.

परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि किसान आंदोलन में 200 से ज्यादा किसानों की मौत हो चुकी है. दो दर्जन से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या कर ली है. सुप्रीम कोर्ट ने कृषि कानूनों पर रोक लगा दी है, इसके बावजूद भाजपा की मोदी सरकार देश के किसानों पर ये कानून थोपना चाहती है. मार्च का उद्देश्य इन कानूनों का विरोध ही है.

कांग्रेस का यह पैदल मार्च चांदपोल बाजार से छोटी चौपड़, त्रिपोलिया गेट, बड़ी चौपड़, रामगंज चौपड़, सूरजपोल अनाज मंडी होकर गलता गेट तक जाएगा. इसके चलते राजधानी के परकोटे में दो घंटे तक ट्रैफिक प्रभावित रहेगा.