प्रदूषण से फिर घुटने लगा दिल्ली का दम, कोर्ट का सुझाव- लॉकडाउन लगाओ

Pollution of Delhi

The Fact India: दिल्ली में वायु प्रदूषण (Pollution of Delhi) की वजह से हालात लगातार बिगड़ते ही जा रहे हैं. राजधानी दिल्ली दिन-प्रतिदिन गैस चैंबर बनती जा रही है. इस पर वायु प्रदूषण के खतरे को देखते हुए दायर याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को कड़ी फटकार लगाई और कहा कि प्रदूषण के लिए किसानों को कोसना एक फैशन बन गया है. कोर्ट ने प्रदूषण पर नियंत्रण पाने के लिए लॉकडाउन का भी सुझाव दिया. भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने केंद्र को बताया कि वायु प्रदूषण एक गंभीर स्थिति है. उन्होंने कहा कि हमें घर पर भी मास्क पहनकर रहना पड़ रहा है.

सुप्रीम कोर्ट ने दिया लॉकडाउन का सुझाव

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को दिल्ली में वायु प्रदूषण (Pollution of Delhi) पर सुझाव दिया कि केंद्र और दिल्ली सरकार उच्च प्रदूषण के स्तर को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी में दो दिनों का लॉकडाउन करने पर विचार कर सकती है.

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा कि वायु प्रदूषण से निपटने के लिए उसने क्या कदम उठाए हैं. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को बताया कि वह कहता है कि पराली जलाने के लिए 2 लाख मशीनें उपलब्ध हैं और बाजार में 2-3 तरह की मशीनें उपलब्ध हैं, लेकिन किसान उन्हें खरीद नहीं सकते हैं. केंद्र / राज्य सरकारें किसानों को ये मशीनें क्यों नहीं दे सकतीं या वापस ले सकती हैं?

इस हालत में कैसे रहेंगे लोग- कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा कि हमें बताएं कि हम एक्यूआई को 500 से कम से कम 200 अंक कैसे कम कर सकते हैं. कुछ जरूरी उपाय करें. क्या आप दो दिन के लॉकडाउन या कुछ और के बारे में सोच सकते हैं? लोग कैसे रह सकते हैं?