राजस्थान में कोरोना से बिगड़ते हालात:24 घंटे में 17,296 नए संक्रमित मिले, 154 की मौत

Rajasthan

The Fact India: राजस्थान में कोरोना महामारी लगातार बढ़ रही है, राजस्थान में कोरोना के केस रविवार की तुलना में भले ही 1002 कम आए हो, लेकिन इसके पीछे कारण सैंपल की जांच कम है। सामान्य दिनों की तुलना में आज करीब 37 हजार सैंपल की जांचे कम हुई। राज्य में बीते 24 घंटे में कुल 17,296 नए संक्रमित मिले है, जबकि 154 लोगों की मौत हो गई। जयपुर में आज एक निजी अस्पताल में उस समय हड़कंप मच गया। जब अस्पताल प्रशासन ने ऑक्सीजन खत्म होने के कारण मरीजों के परिजनों को कहीं और ले जाने की बात कह दी।

चित्तौड़गढ़ के हॉस्पिटल से 5 विचाराधीन कैदी फरार, कोरोना से थे संक्रमित

ऑक्सीजन की किल्लत दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, अस्पताल में जिस प्लांट से ऑक्सीजन सप्लाई होती है, वहां कोई तकनीकी खराबी आ गई, जिसके कारण ऑक्सीजन सिलेण्डर नहीं आ सके। इसके बाद जिला प्रशासन के अधिकारियों ने मोर्चा संभाला और देर रात तक करीब 43 ऑक्सीजन सिलेण्डर की व्यवस्था करवाई, तब जाकर मरीजों के परिजनों ने राहत की सांस ली। इधर जयपुर में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए कलेक्टर ने सख्त निर्देश दिए हैं कि मेडिकल इमरजेंसी या अन्य आवश्यक काम के अलावा और कोई जयपुर की सीमा में प्रवेश करें तो उसे रोका जाए।

जयपुर में भी कोरोना केसों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही। आज जयपुर में 3585 नए संक्रमित मिले है, जबकि 40 लोगों की मौत हो गई। जगतपुरा स्थित एक निजी अस्पताल में अचानक ऑक्सीजन की कमी के चलते अस्पताल प्रशासन ने भर्ती तमाम मरीजों के परिजनों को वापस ले जाने के लिए कह दिया, जिससे वहां हड़कंप मच गया

इधर कोरोना के हॉटस्पॉट बने उदयपुर, कोटा से थोड़ी राहत की खबर है। कोटा में बीते कुछ दिनों से कोरोना केसों की संख्या में लगातार कमी आ रही है। वहीं उदयपुर में भी कोरोना केस धीरे-धीरे कम हो रहे हैं। इन दोनों ही शहरों में रिकवरी रेट का ग्राफ भी धीरे-धीरे ऊपर जाने लगा है। वहीं प्रदेश स्तर पर भी रिकवर मरीजों की संख्या का ग्राफ धीरे-धीरे ऊपर चढ़ रहा है, आज 11 हजार 949 मरीज ठीक भी हुए, जबकि बीते 5 दिन की रिपोर्ट देखे तो 55,885 मरीज ठीक हो चुके हैं।