सिंघु बॉर्डर और यूपी गेट पर किसानों ने कृषि कानूनों की प्रतियां जलाकर मनाई लोहड़ी

copies of the bill

The Fact India: तीन कृषि कानूनों के खिलाफ राजधानी दिल्ली में पिछले 50 दिनों से किसानों का प्रदर्शन जारी है. लिहाजा इसी क्रम में आज आंदोलनरत किसानों ने बिल की प्रतियां (copies of the bill) जलाकर अपना विरोध प्रकट किया. मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी किसानों ने अपना धरना प्रदर्शन खत्म नहीं किया है. उनकी मांग है कि जब तक तीनों कृषि कानून वापस नहीं ले लिए जाते हैं वो तब तक अपना धरना प्रदर्शन जारी रखेंगे. उधर देर शाम को किसानों ने यूपी गेट पर चल रहे प्रदर्शन के दौरान भी तीनों कृषि कानूनों की प्रतियां जलाकर अपना विरोध दर्ज करवाया.

कोर्ट के फैसले के बावजूद किसान हटने को तैयार नहीं

गौरतलब है कि पिछले 50 दिनों से दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर, यूपी दिल्ली के यूपी गेट बॉर्डर पर किसानों का धरना प्रदर्शन जारी है. यहां किसानों ने अपने सैकड़ों टेंट लगा लिए हैं और यहीं पर बैठे हुए हैं. सरकार के साथ किसानों की 9 दौर की वार्ता हो चुकी है मगर उसके बाद भी कोई हल नहीं निकला है. किसान किसी भी कीमत पर मानने को तैयार नहीं है.

आंदोलनरत किसान सिर्फ एक मांग पर अड़े

आंदोलनरत किसानों की सिर्फ एक ही मांग है कि सरकार अपने तीनों कृषि कानून वापस ले लें. सरकार हर बार किसानों से कह रही है कि ये कानून उनके फायदे के लिए बनाए गए हैं मगर किसान मानने को तैयार नहीं है. इस बीच सरकार ने ये भी कहा कि किसान दूसरों के बरगलाने में न फंसे, सरकार उनके फायदे के लिए सोच रही है ना कि नुकसान के लिए. इन सबके बाद भी किसान सरकार की बात मानने को तैयार नहीं है.