राजधानी जयपुर के हरमाड़ा में किसानों ने फिर शुरू किया जमीन समाधि सत्याग्रह

protest

The Fact India: राजधानी के हरमाड़ा में प्रस्तावित नींदड़ आवासीय योजना में भूमि अवाप्ति के विरोध में एक बार फिर किसानों ने जमीन समाधि सत्याग्रह आंदोलन (protest) शुरू कर दिया है. किसानों के मुताबिक जेडीए से तीन दौर की वार्ता होने के बाद भी कोई हल नहीं निकला.

अब मनचलों की अब खैर नहीं, पुलिस ने लॉन्च किया ‘ऑपरेशन रोमियों’

वहीं किसानों ने जेडीए के अधिकारियों पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया था. किसानों ने सरकार के प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत करने की बात कही थी लेकिन सरकार के प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत नहीं हुई. 

निर्णायक फैसले के बाद समाप्त होगा आंदोलन- शेखावत

गौरतलब है कि किसान 50 दिन पहले भी जमीन समाधि सत्याग्रह आंदोलन (protest) कर चुके हैं. उस दरमियान मुख्य सचेतक महेश जोशी के आश्वासन के बाद किसानों ने जमीन समाधि सत्याग्रह आंदोलन (protest) स्थगित कर दिया था हालांकि किसान लगातार धरने पर बैठे रहे. 50 दिन तक लगातार धरना देने के बाद भी किसानों की समस्या का समाधान नहीं हुआ.

सुपोषित मां अभियान का आगाज,ईरानी ने कहा कोटा में लिखा जा रहा नया इतिहास

आज फिर से 10 किसान जमीन समाधि सत्याग्रह कर रहे हैं. धरने की अगुवाई कर रहे डॉ नागेंद्र सिंह ने कहा है कि शाम तक 21 किसान जमीन समाधि सत्याग्रह में शामिल होंगे. इस बार निर्णायक फैसला होने के बाद ही इस आंदोलन (protest) को समाप्त करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.