पैगम्बर मोहम्मद विवाद पर OIC की टिप्पणी पर विदेश मंत्रालय का दो टूक जवाब

The Fact India: पैगम्बर मोहम्मद पर पूर्व भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के बयान को लेकर बवाल थमता दिखाई नहीं दे रहा है. भाजपा ने भले ही नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) और नविन जिंदल पर एक्शन ले लिया हो लेकिन इसे लेकर पूरी दुनिया से रिएक्शन सामने आ रहे हैं. इस मामले में कतर और कुवैत समेत कई देशों के साथ ही आर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन ने भी नाराजगी जताई है.

उत्तराखंड बस हादसे में अब तक 26 की मौत, PM से लेकर CM ने किया राहत का ये ऐलान

अब इस मामले में भारत ने ओआईसी को दो टूक जवाब देते हुए कहा कि हमने ओआईसी महासचिव कार्यालय से जारी भारत पर बयान देखा है. भारत सरकार ओआईसी सचिवालय की अनुचित और संकीर्ण सोच वाली टिप्पणियों को स्पष्ट रूप से खारिज करती है. भारत सरकार सभी धर्मों को सर्वोच्च सम्मान देती है. एक धार्मिक व्यक्तित्व को बदनाम करने वाले आपत्तिजनक ट्वीट और टिप्पणियां कुछ व्यक्तियों द्वारा की गई थीं. वे किसी भी रूप में भारत सरकार के विचारों को नहीं दर्शाते हैं. संबंधित संस्थानों द्वारा इन व्यक्तियों के खिलाफ पहले ही कड़ी कार्रवाई की जा चुकी है.

खरीद-फरोख्त के आशंका के बीच जोशी ने ACB में दर्ज करवाया मामला

वहीं पाकिस्तान के विरोध पर भारत ने आइना दिखाते हुए कहा कि हम पाकिस्तान से आह्वान करते हैं कि वह खतरनाक प्रचार करने और भारत में सांप्रदायिक विद्वेष पैदा करने की कोशिश करने के बजाय अपने अल्पसंख्यक समुदायों की सुरक्षा और कल्याण पर ध्यान केंद्रित करे. दुनिया पाकिस्तान द्वारा हिंदुओं, सिखों, ईसाइयों और अहमदियों सहित अल्पसंख्यकों के प्रणालीगत उत्पीड़न का गवाह रही है. भारत सरकार सभी धर्मों को सर्वोच्च सम्मान देती है. यह पाकिस्तान के बिल्कुल विपरीत है जहां कट्टरपंथियों की प्रशंसा की जाती है और उनके सम्मान में स्मारक बनाए जाते हैं.

8 Views