गहलोत सरकार ने बिजली पर बढ़ाया फ्यूल सरचार्ज, राठौड़-पूनिया ने घेरा

The Fact India: राजस्थान की जनता को बड़ा झटका लगने जा रहा है. राज्य में डिस्कॉम के फ्यूल सरचार्ज लगाने के बाद कीमतों में वृद्धि हुई है. डिस्कॉम ने 33 पैसे प्रति यूनिट फ्यूल सरचार्ज (Fuel Surcharge) लगाया है. यह राशि कंपनी आगामी 3 माह के बिलों में वसूलेंगे. इसे लेकर भाजपा ने गहलोत सरकार पर निशाना साधा है.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि बिजली बिल पर फ्यूल सरचार्ज (Fuel Surcharge) बढ़ाने से प्रदेश के किसान, व्यापारी और आमजन पर महंगाई का एक और बोझ पड़ेगा. गहलोत सरकार प्रदेश की जनता के हित में फ्यूल सरचार्ज की बढ़ी दरें वापस हों और पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करें.

गहलोत सरकार ने आम जनता को दिया करंट का झटका, 550 करोड़ रुपये वसूला जाएगा

उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठोए ने कहा कि महंगाई को लेकर कांग्रेस का 14 नवंबर से शुरु हुए जनजागरण अभियान ने प्रदेश की जनता को महंगाई का बूस्टर डोज देकर अच्छी तरह से जागरूक कर दिया. क्योंकि राजस्थान में एक बार फिर 33 पैसे प्रति यूनिट फ्यूल सरचार्ज के माध्यम से विद्युत उपभोक्ताओं को 550 करोड़ रुपये का करंट दिया जाएगा.

राठौर ने कहा कि प्रदेश में बढ़ती महंगाई के लिए गहलोत सरकार की गलत नीतियां जिम्मेदार है. पेट्रोल-डीजल पर वैट में कमी नहीं करना और बार-बार फ्यूल सरचार्ज के जरिए उपभोक्ताओं पर अतिरिक्त भार लादना, कुल मिलाकर गहलोत सरकार की मंशा आमजन की लड़खड़ाई अर्थव्यवस्था को सुधारने की बजाय उसे कमजोर करने की है.