Gotu Kola Benefits: आयुर्वेद में चमत्‍कारी माना गया है गोटू कोला, इतने है फायदें

Gotu Kola Benefits

The Fact India: सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि विदेशों में भी औषधीय गुणों वाले पौधों और पेड़ों का इस्तेमाल स्वास्थ्य लाभ के लिए किया जाता है। अगर बात करें भारत की तो यहां आयुर्वेद में जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल सदियों से होता आ रहा है। यहां तक कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान भी खासतौर पर इम्यूनिटी क लिए आयुर्वेद का सहारा लिया गया। आप अश्वगंधा के बारे में काफी जानते होंगे, लेकिन क्या आपने कभी गोटू कोला (Gotu Kola Benefits) के बारे में सुना है? जी ये भी एक तरह की औषधि ही है, जिसका इस्तेमाल स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

क्या है ये गोटू कोला?
सबसे पहले ये जानना ज़रूरी है कि आखिर गोटू कोला (Gotu Kola Benefits) क्या चीज़ है। आपको बता दें कि यह एक तरह का पौधा है, जिसका इस्तेमाल आज से नहीं बल्कि प्राचीन समय से किया जा रहा है। इसका वैज्ञानिक नाम सेंटेला आस्टीटिका (Centella asiatica) है। इसे ब्राह्मी बूटी या मण्डूकपर्णी भी कहते हैं। इसकी पत्तियां हरे रंग की होती हैं और इसमें बैंगनी, गुलाबी या फिर सफेद रंग के फूल आते हैं।

गोटू कोला के अनेक फायदे

  1. गोटू कोला के इस्तेमाल (Gotu Kola Benefits) से आपका दिमाग़ तेज़ होता है। ये ध्यान लगाने और एकाग्रचित होने में काफी मददगार होता है।
  2. कई तरह की रिसर्च में साबित हो चुका है कि गोटू कोला चिंता के लक्षणों और उससे होने वाली समस्याओं को दूर करने का काम भी करकता है।
  3. एक वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार गोटू कोला में टोटल फेनोलिक कंटेंट की उच्च मात्रा में पाई जाती है। जो हाईपरटेंशन में मददगार साबित हो सकता है।
  4. गोटू कोला में मौजूद एंटीअल्सर गुण पेट के अल्सर से राहत दिलाते हैं।
  5. गोटू कोला के कई फायदों में से एक है घाव भरना भी है। घाव पर गोटू कोला का लेप लगाने से घाव जल्दी भर जाता है।

गोटू कोला का उपयोग ऐसे करें
गोटू कोला (Gotu Kola Benefits) का कभी भी सीधे उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। आप इसका सप्लीमेंट या अर्क के रूप में सेवन कर सकते हैं। वहीं, त्वचा के लिए गोटू कोला युक्त क्रीम या फिर लेप का इस्तेमाल किया जाता है।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।