जयपुर में आतिशबाजी चलाने पर सरकार ने लगाई बड़ी पाबंदी

द फैक्ट इंडिया ब्यूरो। राजस्थान की राजधानी जयपुर में दिवाली पर पटाखे और आतिशबाजी चलाने (Firework Banned) को लेकर सरकार ने एक आदेश जारी कर दिया है. जिला कलक्टर जगरूप सिंह यादव ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि जिले में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक पटाखों का उपयोग नहीं किया जाए. प्रतिबंधित (Firework Banned) समय और शांत परिक्षेत्र स्थलों पर पटाखे चलाने पर रोक रहेगी. यही नहीं अन्य स्थलों पर विभिन्न सामाजिक एवं सांस्कृतिक अवसरों पर सामूहिक रूप से सार्वजनिक स्थानों पर अत्यधिक प्रदूषक एवं ध्वनि विस्तारक आतिशबाजी के लिए संबंधित स्थानीय निकाय की अनापत्ति एवं संबंधित उपखण्ड मजिस्ट्रेट अथवा पुलिस उपायुक्त की पूर्वानुमति जरूरी होगी.

कलेक्टर के अनुसार विभिन्न त्यौहारों पर व अन्य सामाजिक-सांस्कृतिक समारोह आदि के अवसर पर भारी मात्रा में अत्यधिक प्रदूषण कारक एवं ध्वनियुक्त अतिशबाजी, पटाखे चलाये जाते हैं. इससे न केवल ध्वनि प्रदूषण होता है बल्कि वायु प्रदूषण की अत्यधिक मात्रा मे बढ़ जाता है.

Maharashtra election: अकोला में पीएम मोदी ने कहा-विरोधियों की राजनीतिक चालें चौपट होती जा रही है

सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला

कलेक्टर के आदेशों के अनुसार पटाखे एवं आतिशबाजी से होने वाले ध्वनि प्रदूषण के संबंध में माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 18 जुलाई 2015 को पारित निर्णय में पटाखों द्वारा तथा अन्य माध्यमों से उत्पन्न ध्वनि प्रदूषण के नियंत्रण के संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश प्रदान किए गए हैं. इनके अनुसार रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ध्वनि उत्पन्न करने वाले पटाखों का उपयोग प्रतिबंधित है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.