अगर आप शाही स्नान के लिए कुंभ मेले जा रहे है तो जरूर जान लें ये नये नियम

Kumbh Mela

The Fact India: कोरोना वायरस महामारी के बीच हरिद्वार में कुंभ मेला (Kumbh Mela) की शुरुआत हो चुकी है। यह दुनिया का सबसे बड़ा मेला होता है। इस मेले में देश और दुनिया से लोग आते हैं। ऐसी मान्यता है कि शाही स्नान के दिन पवित्र नदियों में आस्था की डुबकी लगाने से व्यक्ति के सभी पाप धुल जाते हैं। इस मौके पर गंगा समेत पवित्र नदियों में लोग नहाते हैं। इस बीच कोरोना के दूसरे लहर के चलते संक्रमितों की संख्या में बड़ी तेजी से बढ़ोत्तरी होने लगी है। इसके चलते राज्य सरकार ने नई गाइडलाइंस जारी की है। अगर आप भी शाही स्नान के लिए हरिद्वार जाने की तैयारी कर रहे हैं, तो नया नियम जरूर जान लें-

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हरिद्वार श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र है। अन्य दिनों में भी श्रद्धालु हरिद्वार जरूर आते हैं। इसके अलावा, पर्यटक भी बड़ी संख्या में हरिद्वार घूमने आते हैं। इस मद्देनजर राज्य सरकार ने 12 राज्यों के लोगों के लिए कोरोना नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट अनिवार्य कर दिया है। इसके तहत पर्यटकों और श्रधालुओं (Kumbh Mela) को अपने साथ RT-PCR नेगेटिव टेस्ट लाना अनिवार्य होगा। इस बारे में और अधिक जानकारी देते हुए सीएम तीरथ सिंह ने कहा कि सभी श्रद्धालुओं को गृह मंत्रालय की तरफ से जारी गाइडलाइन का सख्ती से पालन करना होगा।

खबरों की मानें तो महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, हरयाणा, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और राजस्थान के लोगों को हरिद्वार (Kumbh Mela) में प्रवेश के लिए RT-PCR नेगेटिव टेस्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है। वहीं, RT-PCR नेगेटिव टेस्ट 72 घंटे पहले की होनी चाहिए। अगर किसी व्यक्ति के पास RT-PCR नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट नहीं होगी अन्यथा 72 घंटे से अधिक पुरानी होगी, तो उसे हरिद्वार में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। आपको बता दें कि 12, 14, 27 अप्रैल को शाही स्नान है। इस दिन काफी संख्या में श्रद्धालु आ सकते हैं। इसके लिए कड़े नियम बनाए गए हैं।