गहलोत सरकार का अहम फैसला, कोरोना के चलते 6 जून तक सभी स्कूल बंद

schools closed
schools closed

The Fact India: कोरोना वायरस (Covid-19) महामारी के लगातार बढ़ते प्रकोप के कारण कई राज्यों ने शेड्यूल से पहले गर्मी की छुट्टियां घोषित कर दी हैं। प्रदेश के सरकारी और निजी स्कूलों में 22 अप्रैल से 6 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित (schools closed) किया गया है। इस दौरान स्कूल ऑनलाइन पढ़ाई भी नहीं करवा सकेंगे। इस बारे में बुधवार को शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने आदेश जारी कर दिए हैं। ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद नया सत्र शुरू होगा।

आदेश के अनुसार कोरोना ड्यूटी में लगे हुए शिक्षक कलेक्टर और एसडीएम की अनुमति के बाद ही अवकाश पर जा सकेंगे। आपातकालीन स्थिति में कलेक्टर या एसडीम की ओर से आदेश जारी होने के पर ड्यूटी पर वापस लौटना होगा। कोविड-19 ड्यूटी के अलावा संस्था प्रधान विभागीय निर्देशों की पालना में शिक्षकों को ग्रीष्म कालीन अवकाश (schools closed) के दौरान विद्यालय मे बुला सकेंगे। इसके लिए विभाग ने संस्था प्रधानों को अधिकृत किया है। विभाग के अनुसार ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान ड्यूटी या स्कूल में काम करने वालों को भी उपार्जित अवकाश का लाभ मिलेगा।

राजस्थान में कोरोनावायरस के मामलों में तेजी को देखते हुए राज्य सरकार ने सभी सरकारी और निजी स्कूलों में 22 अप्रैल से 45 दिनों के गर्मी की छुट्टी (schools closed) की घोषणा कर दी है। स्कूल शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ट्वीट किया है कि राज्य में बढ़ते COVID-19 मामलों को देखते हुए सभी स्कूलों को गर्मी की छुट्टी घोषित करने के लिए निर्देश दिया गया है। माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक के आदेश में कहा गया है कि राजस्थान के सभी राजकीय और निजी स्कूलों में 22 अप्रैल से 6 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश रहेगा।