चूरू महापंचायत में टिकैत ने कहा- हल चलाने वाले हाथ नहीं जोड़ेंगे

The Fact India: केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ राजस्थान में अब भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रिय प्रवक्ता राकेश टिकैत ताबतोड़ महापंचायत कर रहे हैं. सोमवार को टिकैत ने हनुमानगढ़ नोहर में महापंचायत की थी. अब आज टिकैत शेखावाटी के दौरे पर है. टिकैत ने चूरू के सरदारशहर (Churu Mahapanchayat) में महापंचायत को सम्बोधित किया. साथ ही इस दौरान टिकैत एक नया नारा देते हुए कहा कि हल चलाने वाले हाथ नहीं जोड़ेंगे.

मंगलवार को किसान नेता राकेश टिकैत ने चूरू के सरदारशहर के महापंचायत को सम्बोधित (Churu Mahapanchayat) करते कृषि कानूनों के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार को जमकर घेरा. इस दौरान टिकैत ने किसानों को एकजुट होने की भी बात कही. साथ ही टिकैत ने ऐलान किया कि वो इस बार 40 लाख ट्रैक्टरों के साथ दिल्ली में रैली निकालेंगे.

विश्वेन्द्र सिंह का रीट्वीट- समझौते के रिश्ते में मिठास पहले जैसी कभी नहीं आती

राजीव गांधी स्टेडियम में आयोजित किसान महापंचायत में टिकैत ने कहा कि यह किसानों की आजादी की लड़ाई है. देश की आजादी की लड़ाई 90 साल चली थी. उन्होंने कहा कि जब तक तीनों कृषि कानून वापस नहीं होंगे, सरकार कमेटी से बात नहीं करेगी और जब तक एमएसपी कानून नहीं बनेगा तब तक लड़ाई जारी रहेगी.

मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए टिकैत ने कहा कि यह सरकार लुटेरों की सरकार है और लूटेरों की सरकार के बादशाह को दिल्ली से बाहर करना है, ताकि वह लुटेरों का आखिरी बादशाह साबित हो. इस दौरान टिकैत ने नया नारा हल चलाने वाला हाथ नहीं जोड़ेगा. इस महापंचायत में कांग्रेस विधायक कृष्णा पूनिया, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी समेत कई अन्य आला नेता मौजूद रहे.