Ind Vs Nz: पुजारा-रहाणे अब भी फेल, टेस्ट सीरीज जीतकर क्या मिला?

The Fact India: न्यूजीलैंड के खिलाफ 1-0 से जीत कर टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में नंबर-वन पर पहुंच गई हैं, लेकिन अभी भी कई ऐसे एरिया हैं, जो टीम इंडिया के लिए चिंता का सबब बने हुए हैं. टी-20 वर्ल्डकप के बाद-हार कर आई टीम इंडिया ने अपने घर में न्यूजीलैंड को टी-20 और टेस्ट दोनों सीरीज (Ind Vs Nz) में हरा दिया है. टेस्ट में 1-0 से मात देने के बाद टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पर भी पहुंच गई हैं.

कप्तान विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका दौरे से पहले जीत का स्वाद चख लिया है, लेकिन इस टेस्ट सीरीज (Ind Vs Nz) से हमें क्या मिला, ये भी एक सोचने वाली बात है, क्योंकि नए कोच राहुल द्रविड़ सिर्फ मौजूदा हालात ही नहीं बल्कि भविष्य की तैयारियों में भी जुटते हुए नज़र आ रहे हैं.

उप- कप्तान पर खतरा, अजिंक्य रहाणे फिर फेल

पहले टेस्ट में कप्तानी करने वाले अजिंक्य रहाणे लंबे वक्त से खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं, कानपुर टेस्ट में भी ऐसा हुआ और वह बड़ा स्कोर करने से चूक गए, अजिंक्य रहाणे के पास मौका था कि घर में वह बेहतर प्रदर्शन कर अपनी फॉर्म को वापस लाने की केशिश करें लेकिन ऐसा नहीं हो सका. ऐसे में अब ना सिर्फ अजिंक्य रहाणे की जगह को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं, बल्कि उनकी उप-कप्तानी भी छिन सकती हैं.

साउथ अफ्रीका दौरे के लिए रोहित शर्मा को टेस्ट में भी उप- कप्तानी मिल सकती है. रोहित शर्मा लगातार टेस्ट में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं, वह लंबे वक्त से लीडरशिप ग्रुप का हिस्सा भी हैं और अब वह टी-20 फॉर्मेट में कप्तान भी बन गए हैं.

चेतेश्र्वर पुजारा का रिप्लेसमेंट खोजा जाएगा

अजिंक्य रहाणे की तरह ही चेतेश्र्वर पुजारा का फॉर्म भी खराब चल रहा हैं, पुजारा के बल्ले से भले ही फिफ्टी निकल रही हो, लेकिन जिस बड़ी पारी की उनसे टिम को उम्मीद हैं, वो पूरी नही हैं, हालांकि, चेतेश्र्वर पुजारा की जगह पर अभी कोई खतरा नहीं दिख रहा हैं क्योंकि साउथ अफ्रीकी दौरे पर नंबर तीन के लिए उनके जैसा एक मजबूत बल्लेबाज जरुरी चाहिए.

कीवी के गेंदबाज एजाज पटेल ने रचा इतिहास, एक ही पारी में झटके भारत के 10 विकेट

क्योंकि सीरीज तीन मैचों की हैं, ऐसे में सेलेक्टर्स की ओर से नंबर तीन के लिए उनके उलावा कुछ अन्य बल्लेबाजों को भी भेजा जा सकता हैं, जो जरुरत पड़ने पर काम आ सकें, साउथ अफ्रीका दौरे पर मौजूद भारत-ए टिम के प्रियंक पंचाल, अभिमन्यु मिथुन जैसे खिलाड़ियों के लिए इसके लिए ट्राई किया जा सकता हैं.

(टेस्ट सीरीज में) भारत के लिए सबसे ज्यादा रन

मयंक अग्रवाल – (242 रन) , श्रेयस अय्यर-(202 रन) , शुभमन गिल-(144 रन) , चेतश्र्वर पुजारा-(95रन) , अजिंक्य रहाणे-(36 रन )

दोनों मैचों में स्पिनर्स का जलवा, फास्ट बॉलर फेल

कानपुर और मुंबई टेस्ट दोनों को देखें तो टीम इंडिया की ओर से सिर्फ स्पिनर्स का जलवा देखने को मिला हैं, बीच में एक स्पेल मोहम्मद सिराज की ओर से काफी शानदार डाला गया था, लेकिन उसके अलावा कुछ ज्यादा देखने को नहीं मिला.

भारत में स्पिनर्स ही हमेशा विकेट लेने के मामले में आगे रहते हैं, लेकिन टीम इंडिया को अब साउथ अफ्रीका का दौरा करना हैं, ऐसे में तेज गेंदबाजों का बेहतर करना जरुरी हैं, मोहम्मद सिराज. उमेश यादव, ईशांत शर्मा जैसे प्लेयर्स इस सीरीज हिस्सा थे, लेकिन साउथ अफ्रीकी दौरे के लिए मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह की भी टीम में वापसी होगी.

सीरीज में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट

रविचंद्रन अश्र्विन-14 विकेट, अक्षर पटेल-9 विकेट, जयंत यादव-5 विकेट, रवींद्र जडेजा-5 विकेट, मोहम्मद सिराजा -3 विकेट

किंग कोहली की हुई वापसी

कप्तान विराट कोहली ने टी-20 वर्ल्डकप के बाद ब्रेक लिया या, मुंबई टेस्ट में उन्होंन वापसी की, लेकिन खराब फॉर्म का दौर अभी भी जारी हैं, वापसी के बाद पहली पारी में तो विराट कोहली जीरो पर ही आउट हो गए थे, वहीं दुसरी पारी में अच्छे टच में दिखने के बाद भी सिर्फ 36 रन ही बना पाए, ऐसे में विराट कोहली का 71 वां शतक अभी भी इंतजार कर रहा हैं.