धक्कामुक्की के बीच जयपुर हेरिटेज का बजट पास, 100 करोड़ की देनदारी पर खूब मचा बवाल

Jaipur Heritage

The Fact India: जयपुर हेरिटेज नगर निगम (Jaipur Heritage) के पहले बजट बैठक आंकलन के मुताबिक ही जमकर हंगामा हुआ. बाद में माहौल बिगड़ता देख बैठक को स्थगित करना पड़ा.  इससे पहले महापौर मुनेश गुर्जर ने सभा में 783.6 करोड़ रुपए का बजट पेश किया. इस पर भाजपा पार्षद भड़के तो कांग्रेस के पार्षद बचाव में उतर आए. दोनों पक्षों के गलियारे में आने से धक्का मुक्की की नौबत आई. हंगामा होते देख मेयर कुछ देर के लिए सभाकक्ष से बाहर चली गईं. वापस आईं तो भी यही स्थिति थी. इस पर महापौर गुर्जर ने हंगामे के बीच ही बजट पास होने की घोषणा कर दी और तुरंत बैठक को स्थगित कर दिया. इससे पहले बहस शुरू होते ही विरोधी पार्षदों ने टेबल पर चढ़कर विरोध जताया, नारे लगाए.

100 करोड़ की देनदारी पर मचा जमकर बवाल

आपको बता दें नगर निगम हैरिटेज (Jaipur Heritage) का यह पहला बोर्ड है. इससे पहले जयपुर नगर निगम केवल एक ही हुआ करता था. पहले बोर्ड का पहला बजट ही महापौर मुनेश गुर्जर ने पेश किया. उन्होंने अपने बजट भाषण में पूर्व के निगम की 100 करोड़ रुपए की देनदारी का जिक्र किया. बजट भाषण पूरा होते ही भाजपा पार्षद कुसुम यादव ने कहा- जब पहला ही बोर्ड है और बजट भी पहला ही है तो पुरानी देनदारी कहां से आ गई. इस पर कांग्रेसी पार्षद खड़े होकर हंगामा करने लगे. भाजपा पार्षद भी खड़े हो गए और सभी समूह बनाकर वेल में आ गए.

784 करोड़ का पहला बजट पास

इससे पहले महापौर मुनेश गुर्जर (Jaipur Heritage) की अध्यक्षता में नगर निगम मुख्यालय लालकोठी में ही यह बैठक शुरू हुई. इसमें वित्तीय वर्ष 2021-22 का 784.60 करोड़ रुपए का बजट रखा गया. बजट भाषण को पढ़ते हुए मेयर ने जयपुर हेरिटेज क्षेत्र में इस साल ‘प्रशासन शहरों के संग अभियान’ शुरू करने की घोषणा की.

500 करोड़ कर्ज लेने की हुई तैयारी

नगर निगम ग्रेटर की तरह हेरिटेज (Jaipur Heritage) ने भी 500 करोड़ रुपए का कर्जा लेने की तैयारी कर ली है. साधारण सभा में इसका एक प्रस्ताव लाया जाएगा, जिसमें ऋण देने वाली संस्था हुड़कों से ये लोन लेना प्रस्तावित किया है. खास बात ये है कि तत्कालिक जरूरतों को पूरा करने के लिए 30 करोड़ रुपए तुरंत लेने का भी एक प्रस्ताव है. इसमें 10 करोड़ रुपए तो बैंक से ओवरड्राफ्ट करने और 20 करोड़ रुपए का शॉर्ट टर्म लोन लेने का प्रस्तावित है.