नाराज भीड़ ने पुलिस वाहनों पर किया पथराव, दुकानों में लगाई आग, आगजनी के बाद इंटरनेट बंद

The Fact India: झालावाड़ (Jhalawar) जिले के गंगाधर कस्बे में पत्थरबाजी और फायरिंग की अफवाह से भड़के लोगों ने पुलिस के वाहनों पर पत्थरबाजी की और आरा मशीन को आग के हवाले कर दिया. दरअसल कस्बे में सोमवार को एक युवक के साथ मारपीट की गई जिसके बाद पुलिस ने मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया. मामले में दो पक्ष आपस में भीड़ गए. पत्थरबाजी और आगजनी को देख एसपी किरण कंग मौके के लिए रवाना हुई. आयुक्त केसी मीणा ने गंगाधर, भवानीमंडी और पिड़ावा उपखंड के सीमाई क्षेत्रों में सोमवार रात12 बजे से 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद करने के आदेश दिए. ताकि किसी भी तरह की अफवाहों पर रोक लगाई जा सके.

Sikar: सीकर में पुलिस हेड कांस्टेबल को मारी गोली, बदमाश कार छीनकर हुए फरार

आरामशीन के संचालक ने पीटा था युवक को

जानकारी के अनुसार सोमवार को तलवाली (Jhalawar) निवासी जितेंद्र झाला, गंगाधर में एक आरामशीन पर लकड़ी लेने गया था. जहां उसकी और आरामशीन संचालक सलमान की बहस हो गई. उस समय तो मामला शांत हो गया. पर बाद में सलमान ने कुछ और युवकों के साथ मिलकर जितेंद्र सिंह के साथ मारपीट कर दी. जितेंद्र के साथ हुई मारपीट की खबर मिलने पर जितेंद्र समर्थक थाने के बाहर इकट्ठा हो गए. पुलिस ने मारपीट के आरोप में तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया. इसपर आरोपियों के समर्थक भी थाने के बाहर इकट्ठा हो गए. दोनों समुदायों के बीच गहमागहमी बढ़ती गई. स्थिति बिगड़ती देख एसडीएम जनकसिंह और डीएसपी ब्रज मोहन सिंह ने लोगो को समझाया भी. लेकिन कुछ लोगों ने पथराव करना शुरु कर दिया. जिसमें किसान नेता लक्ष्मण सिंह के सिर पर पत्थर लगा और वो घायल हो गए. पथराव में पुलिस व डीएसपी की गाड़ी का शीशा भी टूट गया. जिसके बाद फायरिंग की अफवाह से भीड़ आक्रोशित हो गई. गुस्साई भीड़ ने गंगधार कस्बे के मल्हारगंज चौराहे सहित विभिन्न जगहों पर कुछ दुकानों, आरामशीन व गुमटीओ में आग लगा दी. हालात बिगड़ते देख झालावाड़ एसपी किरण कंग सिद्धू भी झालावाड़ से अतिरिक्त पुलिस जाब्ते के साथ गंगधार पहुंच गई और 6 पुलिस थानों का जाब्ता कस्बे में तैनात किया गया.