स्कूल के निदेशक ने की छात्रों की बेरहमी से पिटाई, पुलिस ने परिजनों को धमकाया

The Fact India: झुंझुनू जिला शिक्षा और खेलकूद में अग्रणी माना जाता है. जिले के बिसाऊ नगर के एक विद्यालय में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने शिक्षक के ओहदे को शर्मसार कर दिया.  मार्च में खबर आई थी कि न्यू राजस्थान पब्लिक स्कूल विद्यालय (Jhunjhunu School) के निदेशक प्रतापसिंह और अन्य शिक्षकों ने 11वी कक्षा में पढ़ रहे 15 वर्षीय छात्र और उसके दोस्तों को बेरहमी से पीटा. बेरहमी भी इतनी की छात्रों को अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा. जब परिजन पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाने पहुंचे तो पुलिस ने डराया धमकाया. अब इस मामले का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आ गया है. वही परिजन अब भी न्याय की गुहार ही लगा रहे है.

ये था मामला

पीडित छात्रों में से एक छात्र के मामा सुभाष ने बताया कि छात्र चुरु के गांव रामसरा का रहने वाला है. वो झुंझुनू में न्यू राजस्थान पब्लिक स्कूल (Jhunjhunu School) में 11वीं कक्षा में पड़ता था. 8 मार्च को छात्र की तबीयत खराब थी. जिसके चलते परिजनों ने उसे फोन दिया था. विद्यालय के निदेशक प्रतापसिंह को जब इसकी जानकारी मिली तो वो अपना आपा खो बैठे और फिर छात्र और उसके दो दोस्तो को बेदर्दी से पिटने लगे. उन्हें मुर्गा बना छड़ी से पीटा. छात्र ने जब घर आकर परिजनों को बताया तो परिजन निदेशक के पास शिकायत लेकर पहुंचे तो निदेशक ने उल्टा परिजनों को धमकाया था और कहा था कि वे उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकते साथ ही ये भी कहा गया कि अगर कोई कानूनी कार्रवाई की तो बच्चे का भविष्य खराब कर देंगे.

सास ने करवाई दामाद की हत्या, लव मैरिज और गरीबी बनी हत्या का कारण

सीसीटीवी फुटेज में सामने आया पूरा मामला

अब सीसीटीवी फुटेज भी सभी के सामने आ गई है. जिसमें अच्छे से दिखाई दे रहा है कि विद्यालय के नौ शिक्षक और शिक्षिकाएं किस बेरहमी से तीन छात्रों को मार रहे है. इस फुटेज में देखा जा सकता है कि निदेशक कैसे छात्रों को जमीन पर पटककर थप्पड़, मुक्कों, लातों और बेंत से पीट रहे है और अन्य शिक्षकों ने छात्रों को बचाने की जगह निदेशक का ही साथ दिया.

पुलिस ने परिजनों को धमकाया

जब परिजनों ने प्रशासन से न्याय की गुहार लगाई तो इसपर पुलिस प्रशासन परिजनों को ही धमकी देने लगा है. पुलिस द्वारा कहा जा रहा है कि आप स्कूल का कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे और अगर आपने केस वापस नहीं लिया तो बच्चे को किसी भी केस में फंसा दिया जाएगा. मुसीबतों से घिरा यह परिवार बेहद परेशान है.