भाजपा में शामिल हुए जितिन प्रसाद ने खुद बताया- आखिर क्यों छोड़ी कांग्रेस

The Fact India: ज्योतिरादित्य सिंधिया के बाद अब उत्तर प्रदेश के बड़े युवा चेहरे जितिन प्रसाद ने भी भाजपा का दामन थाम लिया. विधानसभा चुनाव से पहले इसे कांग्रेस के लिए एक बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है. भाजपा में शामिल होने के बाद ज‍ित‍िन प्रसाद (Jitin Prasad) ने बताया कि आखिर उन्होंने क्यों कांग्रेस छोड़ी.

ज‍ित‍िन प्रसाद (Jitin Prasad) ने बताया क‍ि बीजेपी में शाम‍िल होने का फैसला बहुत सोच समझकर ल‍िया है. ज‍िस दल (कांग्रेस) में था वह मुझे महसूस होने लगा क‍ि हम लोग राजनीति करने लगे हैं. राजनीत‍िक एक माध्‍यम या दल एक माध्‍यम है लेक‍िन जब आप अपने लोगों के हितों की रक्षा नहीं कर सकते. अगर उनके ल‍िए काम नहीं कर पाते हैं तो आपका उस दल में और राजनीत‍ि में रहने का क्‍या मकसद? यहीं मेरे मन में आया क‍ि आप चाहे देश में हो, राज्‍य में हो या ज‍िले में हो अगर आप अपने लोगों का काम नहीं आ सकते, उनकी सहायता नहीं कर सकते हो तो फि‍र क्‍या फायदा. यहीं बात मुझे महसूस होने लगा था क‍ि मैं वह काम कांग्रेस पार्टी में नहीं कर पा रहा हूं.

Jitin Prasad join BJP: सिंधिया के बाद कांग्रेस के दिग्गज नेता जितिन प्रसाद ने थामा भाजपा का दामन

उन्होंने (Jitin Prasad) कहा क‍ि अब मैं बीजेपी में शाम‍िल हो गया हूं जो इतना मजबूत संगठन है और मैं उसकी जर‍िए अब समाज सेवा करूंगा. अंत में उन्‍होंने कहा क‍ि मैं ज्यादा बोलना नहीं चाहता हूं और अब मेरा काम बोलेगा. मैं बीजेपी कार्यकर्ता के रूप में सबका साथ, सबका विश्वास और एक भारत, श्रेष्ठ भारत के लिए काम करूंगा.

ज‍ित‍िन प्रसाद ने कहा क‍ि राजनीतिक जीवन का एक नया अध्‍याय शुरू हो रहा है. मेरा कांग्रेस पार्टी से र‍िश्‍ता तीन पीढ़‍ियों से रहा है. बहुत व‍िचार और मंथन के बाद यह फैसला ल‍िया है. आज सवाल यह नहीं है क‍ि मैं क‍िस पार्टी को छोड़कर आ रहा हूं. सवाल यह है क‍ि क‍िस दल में जा रहा हूं और क्‍यों जा रहा हूं? प‍िछले कुछ वर्षों से देश और व‍िदेश में भ्रमण करके यह महसूस क‍िया है क‍ि आज देश में असली मायने में कोई राजनीति दल है, वो भारतीय जनता पार्टी है.

उन्होंने कहा कि बाकी दल तो व्‍यक्‍त‍ि व‍िशेष और क्षेत्र‍िय दल बनकर रहे गए हैं. उन्‍होंने कहा क‍ि देश जिस चुनौत‍ियों का सामना व‍िदेश और सीमाओं पर कर रहा है. उसके ल‍िए आज अगर कोई दल और नेता सबसे मजबूती के साथ खड़ा है तो वह बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं. उन्‍होंने कहा क‍ि प्रधानमंत्री नए भारत का न‍िर्माण कर रहे हैं और अब उसमें एक छोटा सा योगदान मुझे भी करने को म‍िलेगा. यह योगदान भारत के प्रत‍ि और आने वाले पीढ़ि‍यों के प्रति होगा.