किरोड़ी ने किया ‘क्रांति’ का एलान, 1 लाख भीड़ जुटाने का किया दावा

The Fact India : राजस्थान में ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट को लेकर पिछले कई दिनों से सियासत गरमाई हुई है. कांग्रेस जहां 2023 के विधानसभा चुनावों में ईआरसीपी को जनता के बीच जाकर चुनावी मुद्दा बनाने की तैयारी में है वहीं बीजेपी ईआरसीपी को लेकर राज्य सरकार को तकनीकी खामी पर लगातार घेर रही है. राज्य के 13 जिलों की प्यास बुझाने वाली इस योजना को लेकर बीजेपी और कांग्रेस सरकार के बीच फिलहाल गतिरोध बना हुआ है. इसी बीच ईआरसीपी के मुद्दे पर बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीणा (Kirodi Lal Meena) ने एक बार फिर ईआरसीपी के लेकर आवाज बुलंद की है.

आदिवासी दिवस पर होगा आगाज, मकसद है सियासी

किरोड़ीलाल मीणा (Kirodi Lal Meena) ने ईआरसीपी के मुद्दे पर 8 और 9 अगस्त को जल क्रांति नाम से एक विशाल जनसभा का ऐलान किया है. मीणा के मुताबिक विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर 9 अगस्त को दौसा जिले के मीणा हाईकोर्ट नांगल राजावतान में बड़ी जनसभा होगी जहां गहलोत सरकार से ईआरसीपी योजना में आवश्यक संसोधन करने की मांग करते हुए संशोधित डीपीआर केंद्र सरकार को भेजने की मांग उठाई जाएगी. बता दें कि इससे पहले हाल में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ईआरसीपी को लेकर एक अपने आवास पर एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है. मिली जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री निवास पर होने वाली इस बैठक के लिए सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को आमंत्रण भेजा गया था लेकिन उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ और प्रवक्ता रामलाल शर्मा के अलावा बीजेपी का कोई बड़ा नेता बैठक में शामिल नहीं हुआ.

कई जगह राहत बनकर बरसे मेघ तो कई जगह आफत बन गए

हजारों लोग लेंगे हिस्सा

इसी कार्यक्रम के जरिए मीणा ईआरसीपी प्रोजेक्ट को लेकर चल रही सियासत पर अपना पक्ष भी रखेंगे. किरोड़ी मीणा इस कार्यक्रम के जरिए परियोजना से संबंधित जिलों के वंचित बांधों को जोड़ने और ERCP को राष्ट्रीय परियोजना घोषित किए जाने के लिए 75 प्रतिशत जल निर्भरता पर नया प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजने की मांग करेंगे. ईआरसीपी के लिए हर घर जल क्रांति आंदोलन व जयपुर कूच का भी आयोजन रखा गया है, जिसमें 13 जिलों के हजारों लोग भाग लेंगे. आगंतुकों के लिए बैठने टेंट, 350 चांदनी, स्टेज बनाया जाएगा. हाईकोर्ट परिसर मे एक लाख लोगों के बैठने की व्यवस्था का टेंट लगाया जा रहा है ताकि आने वाले लोगों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो. यहां 75वें अमृत महोत्सव के तहत मीणा हाईकोर्ट परिसर के टीटोली टोल प्लाजा से लेकर हाईकोर्ट परिसर तक तिरंगे झंडों से सजाया जाएगा.इसी कार्यक्रम के जरिए किरोड़ी पूर्वी राजस्थान के 13 जिलों की 75 विधानसभा के 75 हजार लोगों के साथ दौसा से जयपुर मुख्यमंत्री आवास के घेराव का भी एलान करेंगे.

सभी पार्टियों के जनप्रतिनिधि शामिल होंगे

आयोजकों का कहना है कि कार्यक्रम सभी पार्टियों के सांसद, विधायक, प्रधान, जिला प्रमुख सहित अन्य जनप्रतिनिधि भाग लेंगे. सांसद के समर्थकों ने 8 व 9 अगस्त को होने वाली जनसभा में भीड़ जुटाने को लेकर गांव-ढाणियों तक दौरे शुरू कर दिए हैं. साथ ही कार्यक्रम के प्रचार-प्रसार के लिए जिला व ब्लाक स्तर पर टीमें बनाई गई हैं जो युद्ध स्तर पर प्रचार-प्रसार में जुटी हैं.

86 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.