कुंभकर्णी नींद सो रहे भाजपा नेताओं की मेरे इस्तीफे से नींद हराम हो गई- मौर्य

Swami-Prasad-Maurya

The Fact India: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार से इस्तीफा देने वाले श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने आज विधिवत रूप से समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया. यही नहीं इस दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाजपा के साथ ही बसपा पर भी हमला बोला. आपको बता दें मौर्य का नाम एक वक्त में मायावती के करीबी नेताओं में शुमार था, लेकिन उन्होंने आज मायावती पर भी हमला बोलने से गुरेज नहीं किया. स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि हम जिसका साथ छोड़ देते हैं, उसका कहीं पता नहीं चलता. मायावती इसकी जिंदा मिसाल हैं. वह आंबेडकर के मिशन से हट गईं. मान्यवर कांशीराम के आंख मूंदते ही नारा बदल दिया था.

भाजपा नेता कुंभकर्णी नींद सो रहे थे, अब टूटी नींद

इस दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य(Swami Prasad Maurya) ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी के वो बड़े-बड़े नेता जो कुंभकर्णी नींद सो रहे थे, उनकी नींद हमारे इस्तीफों के बाद हराम हो गई है. इसके साथ ही भाजपा के कुछ लोग कहते हैं कि 5 साल तक क्यों नहीं इस्तीफा दिया. कुछ बददिमाग लोग यह भी कहते हैं कि बेटे के चक्कर में भाजपा छोड़ दी. उनके जवाब में मौर्या ने कहा कि भाजपा के लोगों ने इस देश के गरीबों, मजलूमों, दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों की आंखों में धूल झोंककर सत्ता हथियाई थी.  

CM योगी अयोध्या से ठोकेंगे ताल! केशव मौर्य और दिनेश शर्मा की भी सीटें तय

सरकार बनाएं पिछड़े और मलाई खाएं अगड़े

इस दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य(Swami Prasad Maurya) के बयान से बिल्कुल साफ नजर आया कि वो इस बार यूपी का चुनाव पिछड़ा बनाम अगड़ा बनाने में लगे हुए है. स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि यह भाजपा केशव प्रसाद मौर्य और स्वामी प्रसाद मौर्य का नाम उछालकर पिछड़ों के बूते सत्ता में आई थी. भाजपा ने चर्चा की थी कि स्वामी प्रसाद मौर्य या केशव प्रसाद सीएम होंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ, गोरखपुर से नेता को लाकर सीएम बना दिया और पिछड़ों की आंखों में धूल झोंक दी. आज सरकार बनाएं अल्पसंख्यक और पिछड़े और मलाई खाएं, वे 5 फीसदी अगड़े.