लखीमपुर कांड: 128 दिन बाद केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी का पुत्र आया जेल से बाहर

The Fact India: लखीमपुर के तिकुनिया कांड के मुख्य आरोपी केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी का बेटा आशीष मिश्रा(Ashish Mishra Teni) मंगलवार की दोपहर जेल से बाहर आ गया. हाईकोर्ट से जमानत के बाद जिला जज की अदालत से उसकी रिहाई का आदेश मंगलवार सुबह जेल पहुंचा. इसके बाद कागजी कार्यवाही पूरी कर आशीष मिश्रा टेनी को रिहा कर दिया गया. आपको बता दें आशीष मिश्रा 128 दिन बाद जेल से बाहर आया है. 

राजभर ने मांगी चुनाव आयोग से सुरक्षा, बोले- योगी चाहते हैं मेरी हत्या कराना

पिछे के दरवाजे से निकला आशीष मिश्रा

जानकारी के मुताबिक आशीष मिश्रा(Ashish Mishra Teni) को मुख्य गेट की जगह पीछे के दरवाजे से बाहर निकाला गया. इसके पीछे सुरक्षा कारणों का हवाला दिया गया. इस दौरान मीडिया ने उनसे बात भी करने की कोशिश की लेकिन वह कार में बैठकर निकल गए.

भाजपा विधायक के बिगड़े बोल, कहा- योगी को वोट नहीं देने वालों के लिए मंगवाए हैं हजारों बुल्डोजर

सोमवार को दाखिल किए गए जमानतनामे

इससे पहले हाईकोर्ट से आदेश आने के बाद सोमवार को जिला जज की कोर्ट में जमानतनामे दाखिल किए गए थे. जिला जज मुकेश मिश्रा ने दो जमानतदारों और उनके द्वारा जमानत में लगाई गई सम्पत्ति का सत्यापन कराने के लिये संबंधित थानाध्यक्ष और तहसीलदार को आदेश दिया था.

आशीष की जमानत को टिकैत सुप्रीम कोर्ट में देंगे चुनौती
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि आशीष मिश्रा(Ashish Mishra Teni) की जमानत को संयुक्त किसान मोर्चा सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगा. मंगलवार को लखीमपुर में पत्रकारों से बातचीत में टिकैत ने कहा कि किसानों को गाड़ी से कुचलने वाले केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को सिर्फ तीन महीने में ही जमानत मिल गई. उन्होंने कहा कि तिकुनया हिंसा मामले में केंद्र सरकार ने गृह राज्यमंत्री को उनके पद से भी नहीं हटाया और न ही इस मामले में उनसे पूछताछ हुई.

जानिए क्या है लखीमपुर का तिकुनिया कांड 
तीन अक्तूबर को हुए तिकुनिया कांड में चार किसान, एक पत्रकार, एक ड्राइवर और दो भाजपा कार्यकर्ता मारे गए थे. चार किसानों समेत एक पत्रकार की मौत में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र के पुत्र आशीष मिश्र(Ashish Mishra Teni) उर्फ मोनू समेत 14 आरोपियों के खिलाफ एसआईटी आरोपपत्र दाखिल कर चुकी है. इसकी सुनवाई जिला जज की कोर्ट में चल रही है. इस मामले आशीष मिश्र 10 अक्टूबर से जिला जेल में बंद हैं.

95 Views