ब्लॉक कमेटी की बैठक में बोले लोढ़ा- सेवा की प्रतिबद्धता है तो सहन करना पड़ता है अपमान भी

The Fact India: शिवगंज (Shivganj) के कांग्रेस भवन में आयोजित ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की बैठक में मुख्यमंत्री के सलाहकार विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि एक राजनीतिक कार्यकर्ता के रूप में यदि आप में जनता की सेवा की प्रतिबद्धता है तो जरूरी नहीं कि हर जगह आपको सम्मान ही मिलेगा। कभी जनता के हित के लिए आपको अपमान भी सहन करना पड़ता है। लेकिन अपमान के डर से सेवा का रास्ता नहीं छोड़ा जा सकता। विधायक लोढा शुक्रवार को कांग्रेस भवन में आयोजित ब्लॉक कांग्रेस की बैठक में उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष हरीश राठौड की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में ब्लॉक चुनाव प्रभारी शिशुपालसिंह राजपुरोहित का भी सानिध्य रहा।

बैठक (Shivganj) को संबोधित करते हुए विधायक लोढ़ा ने कहा कि कार्य कोई भी मुश्किल नहीं होता बस इच्छाशक्ति मजबूत होनी चाहिए। जनता का प्रेम और विश्वास साथ होगा। उनके सुख दु:ख में हम भागीदार बनेंगे तभी हम मजबूत हो सकेंगे। विधायक ने कहा कि हालांकि उन्होंने कभी कांग्रेस छोडऩे का सोचा नहीं और न ही कभी ऐसा दिमाग में आया कि कांग्रेस छोडक़र किसी दूसरी पार्टी में चले जाए। किसी परिस्थिति में जब उन्हें पार्टी से टिकट नहीं मिला तो उन्होंने जनता के भरोसे निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा। जनता ने भी उन्हें आशीर्वाद के रूप में ८२ हजार वोट प्रदान कर क्षेत्र का विधायक बनने का फिर से मौका दिया। अब हमें सिरोही की जनता का यह कर्ज विकास के रूप में उतारना है,इसके लिए वे दिन रात जनसेवा के कार्यो में लगे रहते है। विधायक लोढ़ा ने कहा कि उनकी सिरोही के विकास के प्रति प्रतिबद्धता को देख मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी 70 साल की विकास की दरिद्रता को मात्र साढ़े तीन साल में ही खत्म कर क्षेत्र को विकास की कई सौंगातें दी है।

चांदना के इस्तीफे के पेशकश पर बोले गहलोत- काम का दबाव है, इसलिए दिया ऐसा बयान

उन्होंने कहा कि सिरोही की जनता ने जिस उत्साह व उमंग के साथ विकास के लिए वोट दिया था, उसी संकल्प को पूरा करने के लिए वे निरंतर कार्य कर रहे है। इस मौके पर उन्होंने गौतम ऋषि महादेव मंदिर जो मीणा समाज के लोगों के आराध्य है। वहां प्रतिवर्ष आयोजित मेले में लाखों की संख्या में श्रद्धालु शिरकत करते है की सडक़ का जिक्र करते हुए कहा कि मीणा समाज की दशकों से सडक़ का दोहरीकरण करवाने की मांग थी, मगर वह पूरी नहीं हो रही थी। चुनाव दौरान उन्होंने मीणा समाज के लोगों को भरोसा दिलाया था कि विधानसभा सदस्य बनने के बाद वे इस सडक़ का नवीनीकरण एवं दोहरीकरण करवाएंगे। उनका यह संकल्प आज पूरा हो गया है। मुख्यमंत्री गहलोत ने इस सडक के लिए दस करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत की परिणाम स्वरूप आज यह सडक़ मार्ग पूरी तरह से तैयार होने की दहलीज पर है।

विधायक लोढ़ा ने कहा कि आज देश का क्या हाल है, आज माहौल क्या है यह किसी से छिपा हुआ नहीं है। एक राजनीतिक कार्यकर्ता के रूप में देशहित में, जनता के हित में कई बार प्रताडऩा भी सहन करनी पड़ती है। कई बार अपनी ही सरकार के खिलाफ भी खड़ा होना पड़ता है। जनता की सेवा ही करनी है तो कई जगहों पर अपमान भी सहन करना पड़ता है। जरुरी नहीं कि हर जगह आपको सम्मान ही मिलेगा। उन्होंने झाडोलीवीर के लखमाराम देवासी प्रकरण का जिक्र करते हुए कहा कि विधानसभा में सरकार ने भी यह माना कि इस मामले में गलती हुई है। जब उसको मुआवजा दिलवाने और दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की तो उन्हें उठाकर विधानसभा से बाहर कर दिया गया। विधायक ने कहा कि विधानसभा तो क्या भले ही दुनिया से बाहर फैंक दो लेकिन जनता की सेवा का रास्ता नहीं छोड़ेगे। जिस जनसेवा के जिस संकल्प को लेकर चला हूं उसको पूरा करने के लिए भले ही अपमान हो कभी पीछे नहीं हटेंगे।

बैठक में विधायक लोढ़ा ने राज्य सरकार की ओर से जनता के हित में करवाए जा रहे कार्र्यो व योजनाओं की जानकारी देते हुए कार्यकर्ताओं से उनका लाभ प्रत्येक जरुरतमंद को दिलवाने की अपील की। बैठक को संबोधित करते हुए ब्लॉक चुनाव प्रभारी शिशुपालसिंह राजपुरोहित ने पार्टी के संगठनात्मक चुनावों को लेकर कार्यकर्ताओं से चर्चा करते हुए पार्टी को मजबूत बनाने का आह्वान किया। ब्लॉक अध्यक्ष हरीश राठौड ने सभी का आभार प्रकट किया।

बैठक में पालिकाध्यक्ष वजींगराम घांची, पूर्व प्रधान अचलाराम माली, राजेन्द्र रावल, आल्पा सरपंच नारायण रावल, रूपाराम मीना, नरपतसिंह, महिला कांग्रेस अध्यक्ष नजमा सिलावट, हबीब शेख, पार्षद प्रकाश मीना, राजू राणा, पार्षद राजेन्द्रसिंह, किस्तुर घांची, जगवीरसिंह, जयंतिलाल सोनी, मालमसिंह, नरेन्द्र जैन, महेन्द्र वाघेला, सहवृत सदस्य महेन्द्र राठौड, हितेश माली, कांतिलाल माली, अरठवाडा सरपंच मुकेश राणा, वनाराम हीरागर, मदन मीना उपसरपंच केसरपुरा, मगाराम माली, पिंकी तीरगर, चंपत मीना, शंकरलाल मीना, पीराराम मेघवाल, मनोहर हिंडोनिया, आरती सुथार, ऋतिका सेन, नफीसा सिलावट सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

69 Views