ममता बनर्जी को लगा तगड़ा झटका, नंदीग्राम में नहीं होगी दोबारा काउंटिंग

Mamata Banerjee

The Fact India : पश्चिम बंगाल की नंदीग्राम सीट से हार के बाद टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को एक और बड़ा झटका लगा है. अपने पूर्व सहयोगी शुभेंदु अधिकारी से नजदीकी मुकाबले में हार के बाद वोटों की दोबारा गिनती की उनकी मांग को खारिज कर दिया गया है. चुनाव आयोग ने कहा है कि रिटर्निंग ऑफिसर का फैसला अंतिम है और इसे केवल हाई कोर्ट में ही चुनौती दी जा सकती है. इस बीच नंदीग्राम में आरओ रहे अधिकारी को सुरक्षा प्रदान की गई है.

जयपुर में लगी 81 हजार पुलिस कर्मियों को कोरोना वैक्सीन की प्रथम डोज

चुनाव आयोग ने मीडिया में आई बातों का किया खंडन

चुनाव आयोग ने मीडिया में आई उन रिपोर्ट्स को खारिज किया है जिनमें कहा गया है कि नंदीग्राम में दोबारा काउंटिंग होगी. आयोग ने कहा है कि किसी विधानसभा क्षेत्र में रिटर्निंग ऑफिसर (आरओ) आरपी एक्ट, 1951 के तहत अर्ध-न्यायिक क्षमता में स्वतंत्र रूप से और चुनाव आयोग के गाइडलाइंस के आधार पर अपने काम को अंजाम देते हैं. 

ममता ने लगाए थे धांधली के आरोप

बंगाल में जीत का परचम लहराने वालीं ममता ने नंदीग्राम में हुई काउंटिंग पर सवाल उठाए हैं. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने भाजपा पर बड़े आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि उनकी हार के पीछे कई राज छिपे हुए हैं. उन्हें हराने के लिए बड़े लेवल पर फर्जीवाड़ा किया गया है. ममता ने कहा कि मुझे किसी ने मैसेज भेजा. मैसेज भेजने वाले को बताया गया है कि नंदीग्राम के रिटर्निंग ऑफिसर काउंटिंग के समय डरे हुए थे. अफसरों ने कहा है कि अगर हम फिर से काउंटिंग करवाते तो हमें जान का खतरा हो सकता है. ममता (Mamata Banerjee) ने नंदीग्राम में हुई मतगणना पर शक जाहिर करते हुए कहा कि वहां 4 घंटे तक सर्वर डाउन रहा. इसी बीच राज्यपाल भी हमें जीत की बधाई दे चुके थे, लेकिन अचानक सब कुछ बदल दिया गया.