Mars Transit : 27 जून को अपनी ही मेष राशि में आ रहे मंगल

कुछ राशियों को होगी परेशानी
देश में विरोध, उपद्रव और हिंसा की आशंका
किसी बड़े व्यक्ति के निधन की संभावना
राजनेता होंगे आंतरिक षडयंत्र के शिकार

The Fact India : मंगल ग्रह सोमवार 27 जून को मीन राशि से निकलकर अपनी राशि मेष में गोचर (Mars Transit) करेंगे। इस राशि में पहले से ही राहु स्थित हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, एक राशि में राहु और मंगल की युति अंगारक योग बनता है। ज्योतिष शास्त्र में इसे बहुत ही अशुभ योग बताया गया है। राहु जो की एक पापग्रह है वो पहले से मेष राशि में विराजमान है। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि राहु और मंगल की यह युति अंगारक योग को जन्म देती है। मंगल साहस वही राहु छल का कारक है इसलिए इस युति में जातक क्रोधी और अति साहसी होकर बने बनाये काम बिगाड़ देता है लेकिन मेष में मंगल स्वयं बलवान होते है और राहु जब किसी बलवान ग्रह के साथ बैठता है तो उसके भी बल में वृद्धि होती है। शनि जनता का और मंगल सेना का कारक है। इसी वजह से इस गोचरकाल में देश की जनता में असंतोष की भावना हो सकती है। इस योग के कारण आंदोलन का पनपना,पुलिस और सेना पर किसी बड़े हमले का भी योग बन रहा है। इस समय देश को अस्थिर करने के लिए साजिश की जा सकती है। मंगल ऊर्जा, भूमि, तेजी, भाई, शौर्य, शक्ति, पराक्रम आदि का कारक ग्रह माना जाता है। मंगल के इस गोचर का प्रभाव देश-दुनिया और सभी राशियों पर पड़ेगा।

ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने बताया कि मंगल 27 जून को सुबह 6:05 पर मीन से मेष राशि में जाएगा। मंगल की यह अपने स्वामित्व वाली राशि है। इस कारण (Mars Transit) बारिश के दौरान तेज हवा चलेगी, कहीं-कहीं आंधी की स्थिति भी बनेगी। वहीं धूप व छांव का दौर चलता रहेगा। इसके अलावा कभी-कभार हल्की बूंदा-बांदी भी होगी। यह मौसम खेती के हिसाब से अच्छा माना जा रहा है। राहू और मंगल की जुलाई अंत तक युति बनी रहने से राजनीति में पक्ष-विपक्ष के लोगों के बीच तनातनी बढ़ेगी। इस दौरान भ्रष्टाचार के कई नए मामले उजागर होंगे। वहीं शनि के कुंभ राशि में वक्री स्थिति में रहने की वजह से कई लंबित कानूनी मसले हल भी होंगे। सभी राशियों पर कुछ न कुछ असर पड़ेगा। मेष राशि के लोगों को कारोबार में भागदौड़ करनी पड़ेगी। वहीं मीन में पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी।

Vastu Tips : घर में इन जगहों पर भूलकर भी न रखें चाबियां

मंगल का शुभ-अशुभ प्रभाव
विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि मंगल (Mars Transit) की वजह से हवाई या पानी से जुड़ी दुर्घटना होने की आशंका है। देश के कुछ हिस्सों में हवा के साथ बारिश रहेगी। भूकंप या अन्य तरह से प्राकृतिक आपदा आने की भी आशंका है। प्रशासनिक फेरबदल हो सकता है। सेना और पुलिस विभाग से जुड़े बड़े मामले सामने आ सकते हैं। जल सेना की ताकत बढ़ेगी। देश की कानून व्यवस्था भी मजबूत होगी। मंगल का राशि परिवर्तन रियल एस्टेट और उद्योग जगत में तेजी का संकेत दे रहा है। देश की सुरक्षा पर पैसा खर्च होगा। प्रॉपर्टी खरीदी-बिक्री बढ़ेगी। जमीनों के दामों में अचानक उतार-चढ़ाव भी हो सकता है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तनाव की स्थिति रहेगी। नए समझौते सावधानी से करने होंगे। सोना-चांदी की कीमतें बढ़ सकती हैं। कपास, कपड़ों के भी दाम बढ़ने के योग हैं। अग्नि तत्व से जुड़ी चीजों यानी पेट्रोल, डीजल की कीमतों को लेकर बड़े फैसले हो सकते हैं। मंगल के अपनी ही राशि में आ जाने से देश के पश्चिमी एवं उत्तरी भागों में बारिश बढ़ सकती है। इनके अलावा अन्य जगहों पर कहीं ज्यादा बारिश और कहीं बहुत कम बारिश होगी। इसके साथ ही देश में महंगाई बढ़ सकती है।

करें पूजा-पाठ और दान
भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि मंगल के अशुभ असर से बचने के लिए हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए। लाल चंदन या सिंदूर का तिलक लगाना चाहिए। तांबे के बर्तन में गेहूं रखकर दान करने चाहिए। लाल कपड़ों का दान करें। मसूर की दाल का दान करें। शहद खाकर घर से निकलें। हं हनुमते नमः, ऊॅ नमः शिवाय, हं पवननंदनाय स्वाहा का जाप करें। हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करें। मंगलवार को बंदरों को गुड़ और चने खिलाएं।

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक अनीष व्यास से जानते हैं मंगल का मेष राशि में गोचर का सभी 12 राशियों पर प्रभाव।
मेष : कारोबार में भागदौड़।
वृषभ : आत्मविश्वास बढ़ेगा।
मिथुन : शिक्षा के क्षेत्र में सफलता।
कर्क : आय में बढ़ोतरी।
सिंह : नौकरी में तरक्की।
कन्या : मान बढ़ेगा, सेहत का ध्यान रखें।
तुला : जीवन साथी से विवाद।
वृश्चिक : वाणी पर संयम रखें।
धनु : धन-संपत्ति का लाभ।
मकर : कार्यों में सफलता।
कुंभ : नया काम अभी शुरू न करें।
मीन : पारिवारिक सुख में वृद्धि।

196 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.