नारी का साग कोलेस्ट्रोल को रखता है कंट्रोल, पाचन क्रिया भी करता है दुरुस्त

The Fact India: अक्सर आपने दादी नानी यहां तक की अमूमन अपने परिवार के हर सदस्य से ये सुना होगा कि हरी पत्तेदार सब्जियां सेहत के लिए अच्छी होती. अब पालक, मेथी, बथुआ के बारे में तो आप जानते होंगे. लेकिन क्या आप नारी साग (Nari Ka Saag) के बारे में जानते है. दरअसल नारी का दूसरा नाम कलमी शाक है. तो चलिए आज इस कलमी शाक के ही आपको फायदे बताते है.

खून की कमी को दूर करने के लिए नारी का साग

नारी के साग को खाने से शरीर में खून की कमी नहीं होती हैं. क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में आयरन पाया जाता हैं. जो खून की कमी को दूर करने में मददगार साबित होता है.

पाचन क्रिया को अच्छा बनाता है नारी का साग

नारी का साग पाचन क्रिया के लिए अच्छा होता हैं. इस साग में फाइबर की मात्रा काफी अच्छी होती हैं. जिससे ये नेचुरल लेक्सटेसिव की तरह काम करता है. साथ ही ये फाइबर मेटाबोलिक रेट को भी बेहतर बनाने में मदद करता है. जिससे आप कुछ भी खाते है. तो वो आसानी के साथ पच जाता है.

कोलेस्ट्रॉल कन्ट्रोल करता हैं नारी का साग

नारी का साग खाने से कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है. जिससे आप हार्ट अटैक जैसी बीमारियों से बच सकते हैं. क्योंकि इसमें मौजूद मैग्नीशियम ब्लड वेसेल्स को स्वस्थ रखता हैं. जिससे ब्लड सर्कुलेशन भी सही ढ़ंग से होता हैं. वह दिल की बीमारियों का खतरा कम रहता है.

लिवर डिटॉक्स करने में मदद

नारी का साग (Nari Ka Saag) आपके लिवर को हेल्दी रखने में मदद करता हैं. साथ ही ये साग आपके लिवर की गंदगी को दूर करने मे भी मददगार होता हैं. नारी के साग में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट लिवर के एंजाइम को एक्टिवेट करते हैं.

आंखों की रोशनी के लिए नारी का साग

नारी  के साग में विटामिन ए और कैरोटीनॉयड काफी मात्रा में पाये जाते हैं. ये आंखों की रोशनी को बढ़ाने में भी मदद करता हैं. इतना ही नहीं नारी के साग को आप अपनी डाइट  में भी शामिल करने से रतौंधी रोग  भी नहीं होता है.