अग्निपथ भर्ती में जाति और धर्म प्रमाण पत्र मांगे जाने के आरोप पर राजनाथ सिंह ने कहा ये

The Fact India: सेना की नई भर्ती प्रक्रिया यानी अग्निपथ योजना का यूं तो देश भर में अब भी विरोध जारी है लेकिन अब इससे जुड़ा एक और विवाद खड़ा हो गया है. विपक्षी दलों का आरोप है कि सेना भर्ती के लिए जाति और धर्म प्रमाण पत्र मांगे जा रहे हैं. अग्निपथ योजना (Agneepath recruitment) के लिए जाति और धर्म प्रमाण पत्र मांगे जाने के आरोपों को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अफवाह करार दिया है.

राजनाथ सिंह ने कहा कि यह पूरी तरह अफवाह है. उन्होंने कहा कि पुरानी व्यवस्था ही जारी है. आजादी के पहले से चली आ रही व्यवस्था में कोई बदलाव नहीं किया गया है. इससे पहले रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों की ओर से भी सफाई दी गई थी. जिसमें कहा गया था कि अग्निपथ योजना (Agneepath recruitment) के तहत सैन्य भर्ती प्रक्रिया में किसी प्रकार का कोई खास बदलाव नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि जाति और धर्म जैसे सर्टिफिकेट सेना में हमेशा से मांगे जाते रहे हैं.

G-6 MLA की बढ़ी नाराजगी! अब वाजिब बोले- मंत्रियों से काम करवाना तो दूर मिलना भी मुश्किल

पीआईबी की ओर से भी इस मामले में फैक्ट चेक किया गया है. पीआईबी फैक्ट चेक ने ट्वीट करते हुए भी इस दावे को फर्जी बताया गया है. संजय सिंह के ट्वीट को शेयर करते हुए पीआईबी फैक्ट चेक में कहा गया है कि सेना भर्ती के लिए जाति प्रमाण पत्र दिखाने का प्रावधान पहले से ही है.

109 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.