चंद्रयान-2 से संपर्क टूटने के बाद पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों का बढ़ाया हौसला

ISRO Headquarters: चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने से कुछ सेकंड पहले चंद्रयान-2 से संपर्क टूट गया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी भी इसरो मुख्यालय (ISRO Headquarters) में मौजूद थे। इसके बाद सुबह एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाने बेंगलुरु स्थित इसरो मुख्यालय पहुंचे। एक बार फिर इसरो मुख्यालय पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए कहा कि हम निश्चित रूप से सफल होंगे। इस मिशन के अगले प्रयास में भी और इसके बाद के हर प्रयास में भी कामयाबी हमारे साथ होगी।

UAPA कानून में संशोधन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

चंद्रयान-2 से संपर्क टूटने के बाद शनिवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसरो मुख्यालय () पहुंचे। इस दौरान इसरो चीफ डॉ के. सिवन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गले लगकर रोने लगे। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने इसरो चीफ का हौसला बढ़ाया। ये भावुक वीडियो समाचार एजेंसी ANI के कैमरे में कैद हुआ जिसे अब देशभर के लोग देख रहे हैं। इसरो के मेहनत की सरहना भी की जा रही है।

पीएम ने कहा कि हर मुश्किल, हर संघर्ष, हर कठिनाई, हमें कुछ नया सिखाकर जाती है, कुछ नए आविष्कार, नई टेक्नोलॉजी के लिए प्रेरित करती है और इसी से हमारी आगे की सफलता तय होती हैं। ज्ञान का अगर सबसे बड़ा शिक्षक कोई है तो वो विज्ञान है। विज्ञान में विफलता नहीं होती, केवल प्रयोग और प्रयास होते हैं।

38 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.