राजस्थान में कोरोना संक्रमण को लेकर सख़्ती की तैयारी: आज कैबिनेट में फैसला होने की संभावना

Cabinet

The Fact india: राजस्थान में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए सख्ती करने की तैयारी हो रही है। 17 मई तक की लॉकडाउन की गाइडलाइंस में दी गई कुछ छूटों को वापस लिए जाने पर विचार चल रहा है। शादी समाराहों पर पूरी तरह पाबंदी लगाने पर फैसला हो सकता है। सात दिन के कड़े लॉकडाउन पर भी फैसला हो सकता है। आज शाम को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्ष्ता में होने जा रही कैबिनेट और मंत्रिपरिषद की बैठक में सख्ती बढाने पर फैसला होने की संभावना है।

गहलोत कैबिनेट की बैठक आज: कोरोना की भयावह स्थिति को लेकर ये कड़े फैसले संभव!

ज्यादातर मंत्री और एक्सपर्ट की राय शादी समाराहों पर पाबंदी लगाने की है। कैबिनेट में चर्चा के बाद शादी समाराहों पर दी गई छूट को वापस लिया जा सकता है। एक्सपर्ट की भी राय है कि आगे आखातीज के सावे पर बड़ी तादाद में शादियां होने से गैदरिंग बढेगी जिसकी वजह से कोरोना विस्फोट की आशंका है। इसके कारण शादी समारोहों पर रोक पर फैसला किया जाना है।

राजधानी जयपुर सहित जिन जिलों में कोरोना के मामले ज्यादा है वहां सख्ती और बढ़ेगी। इन जिलों में कोरोना प्रभावित इलाकों कंटेमेंट जोन जैसी सख्ती की जा सकती है। पिछले लॉकडाउन की तरह जरूरी सेवाओं को छोड़ सब बंद करने के विकल्प पर विचार किया जा सकता है। 12 बजे से सुबह 5 बजे की अवधि में जीरों मोबिलिटी पर जोर दिया जाएगा

कैबिनेट की बैठक के बाद गृह विभाग लॉकडाउन की संशोधित गाइडलाइन जारी कर सकता है। शादियों पर पाबंदी सहित कुछ प्रतिबंधों को शामिल करते हुए नई गाइडलाइन तैयार होगी।