कपिल शर्मा के सेट पर स्मृति ईरानी की नो एंट्री, नाराज होकर कैंसिल की शूटिंग

The Fact India: हालही में शूटिंग करने कपिल शर्मा के सेट पर पहुंची स्मृति ईरानी (Smriti Irani Tragedy) के साथ ट्रेजेडी हो गई. अपनी किताब ‘लाल सलाम’ के प्रमोशन के लिए कपिल शर्मा शो पर पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को सेट के गार्ड ने पहचाना नहीं. गार्ड ने स्मृति को भीतर जाने से रोक दिया, वहीं दूसरी तरफ सेट पर पहुंचे जोमैटो के फूड डिलिवरी बॉय को गार्ड ने बिना पूछताछ के ही जाने दिया. इसी बात से नाराज स्मृति ईरानी बिना शूटिंग किए ही लौट गईं.

कपिल और उनकी प्रोडक्शन की टीम को पता लगने के बाद सेट पर अफरा-तफरी मच गई. जिसके बाद प्रोडक्शन टीम ने स्मृति ईरानी से बात करने की काफी कोशिश भी की, लेकिन आखिरकार शूटिंग कैंसिल करनी पड़ी. उसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंचा और कपिल की प्रोडक्शन टीम से काफी देर तक उनकी बातचीत हुई. जब बात नहीं बनी, तो प्रोडक्शन टीम ने सेट से जुड़े लोगों को घर जाने के लिए कहा.

सेट पर गार्ड ने एंट्री नहीं दी

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार स्मृति उनके ड्राइवर और दो लोगों की टीम के साथ शो की शूटिंग के लिए शाम को कपिल शर्मा के सेट पर पहुंची थीं. एंट्रेंस गेट पर वहां का सिक्योरिटी गार्ड अन्ना उन्हें पहचान नहीं पाया और उसने उन्हें अंदर नहीं जाने दिया. स्मृति ने उसे बताया कि उन्हें सेट पर एपिसोड की शूटिंग के लिए इनवाइट किया गया है, वे शो की स्पेशल गेस्ट हैं. इस पर गार्ड ने कहा, ‘हमें कोई आदेश नहीं मिला है, सॉरी मैडम आप अंदर नहीं जा सकतीं.’

प्रियंका की सरनेम हटाने की थी स्ट्रैटजी, पति के शो को कर रहीं प्रमोट

डिलीवरी बॉय बिना पूछताछ के अंदर गया

स्मृति काफी देर तक गार्ड को समझाने की कोशिश करती रहीं, लेकिन गार्ड नहीं माना. तभी जोमैटो का डिलीवरी बॉय आया और गार्ड ने उसे बगैर कुछ पूछे ही जाने दिया. इस पर केंद्रीय मंत्री काफी नाराज हो गई. जानकारी के अनुसार उन्होंने प्रोडक्शन टीम और कपिल शर्मा को फोन भी लगाए, लेकिन बात नहीं हो पाई. आखिर नाराज होकर स्मृति ईरानी बगैर शूट किए वापस लौट गईं.

पता चलने पर गार्ड ने फोन बंद किया

जब सिक्योरिटी गार्ड को यह बात पता चली कि उसने जिन्हें अंदर जाने से रोक दिया, उनकी एक बात न सुनी, वे केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी थीं तो घबराकर वह सेट से भाग खड़ा हुआ. उसने अपना फोन भी बंद कर दिया है. इधर, प्रोडक्शन टीम लगातार कोशिशों के बाद भी स्मृति ईरानी को शूटिंग पर लौटने के लिए नहीं मना सकी.

‘लाल सलाम’, लिखने में लगे 10 साल

जानकारी के अनुसार स्मृति ईरानी ने सच्ची घटना पर ये थ्रिलर बुक ‘लाल सलाम’ लिखी है और उन्हें इस किताब को पूरा करने में लगभग 10 साल लगे हैं. वेस्टलैंड पब्लिशिंग कंपनी की यह किताब 29 नवंबर को बाजार में आएगी.