केंद्र सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के कंधे पर रखकर चलाई बंदूक- शिवसेना

Shiv Sena
Shiv Sena

The Fact India: किसान आंदोलन को लेकर अब शिवसेना (Shiv Sena) ने केंद्र सरकार के खिलाफ हमलावर हो गई है. अपने मुखपत्र सामना में शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार और सुप्रीम कोर्ट दोनों पर निशाना साधा है. संपादकीय में दावा किया गया है कि सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के कंधे पर रखकर बंदूक चलाई है. अखबार में लिखा गया है कि सरकार अदालत को आगे कर के आंदोलन को खत्म करने की कोशिश कर रही है. खास बात है कि केंद्र और किसान पक्ष शुक्रवार को 9वीं बार आमने-सामने आ रहे हैं.

शिवसेना के मुखपत्र पर ये लिखा

सामना में लिखा है कि सर्वोच्च न्यायालय ने तीन कृषि कानूनों को स्थगनादेश दे दिया है. फिर भी किसान आंदोलन पर अड़े हुए हैं. अब सरकार की ओर से कहा जाएगा कि देखो, किसानों की अकड़, सर्वोच्च न्यायालय की बात भी नहीं मानते. सवाल सर्वोच्च न्यायालय के मान-सम्मान का नहीं है बल्कि देश के कृषि संबंधी नीति का है. किसानों की मांग है कि कृषि कानूनों को रद्द करो. निर्णय सरकार को लेना है. सरकार ने न्यायालय के कंधे पर बंदूक रखकर किसानों पर चलाई है लेकिन किसान हटने को तैयार नहीं हैं.

शिवसेना ने किसानों को चेताया

इसके अलावा शिवसेना (Shiv Sena) ने किसानों को चेताया भी है. उन्होंने लिखा कि एक बार सिंघू बॉर्डर से किसान अगर अपने घर लौट गया तो सरकार कृषि कानून के स्थगन को हटाकर किसानों की नाकाबंदी कर डालेगी इसलिए जो कुछ होगा, वह अभी हो जाए. गौरतलब है कि अदालत ने तीनों नए कानूनों को लागू किए जाने पर फिलहाल रोक लगा दी है. वहीं मामले के निपटारे के लिए 4 सदस्यीय समिति का गठन किया गया है.