G-6 MLA की बढ़ी नाराजगी! अब वाजिब बोले- मंत्रियों से काम करवाना तो दूर मिलना भी मुश्किल

The Fact India: राजस्थान सरकार के G-6 नेताओं (G-6 MLA) की नाराजगी और बढ़ गई है. पहले मंत्री राजेंद्र गुढ़ा ने गहलोत सरकार के दूसरे नंबर के मंत्री शांति धारिवाल का एलाइनमेंट खराब बता दिया था तो अब विधायक वाजिब अली ने सरकार के एक और वरिष्ठ मंत्री बीडी कल्ला पर आरोप लगाया है. साथ ही वाजिब ने सरकार के कई मंत्रियों पर भी सवाल खड़ा किया है. G-6 के नेता जल्द ही दिल्ली जा कर फीडबैक देंगे.

वाजिब अली ने कहा कि बीडी कल्ला समेत कई ऐसे मंत्री हैं जिनके विभागों में काम नहीं हो रहे है. उनसे काम करवाना तो दूर बल्कि उनसे मिलना भी मुश्किल है. साथ ही वाजिब ने कहा कि मंत्रियों का रवैया ऐसा है कि जैसे ये जिंदगी भर के लिए मंत्री बन गए हैं. लेकिन यह हमेशा याद रखना चाहिए कि जनता ने ही आपको मंत्री बनाया है. और सरकार ने बहुत मेहनत की है.

गहलोत सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने को तैयार चौधरी, इस बात पर आंदोलन की दी धमकी

साथ ही वाजिब ने यह भी कहा कि सरकार रिपीट करने के लिए सिर्फ मुख्यमंत्री की मेहनत नहीं होती बल्कि सबकी बराबर मेहनत की जरूरत होती है. वाजिब अली ने कहा कि हम तो मेहनत कर रहे हैं, लेकिन जो मंत्री ऐसा नहीं कर रहे हैं उन्हें खामियाजा भुगतना होगा. उन्होंने कहा कि मैं मंत्रियों का नाम नहीं लेना चाहता, लेकिन बहुत से मंत्री हैं जिनके डिपार्टमेंट में बड़ी समस्याएं चल रही हैं. न वो मंत्री जनता के प्रति जवाबदेह हैं न उनसे जल्दी मिला जा सकता है और ना ही वह काम करते हैं.

उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग में बड़ी समस्या है. हमारे यहां उर्दू के टीचर क्रिएट करने थे, लेकिन 3 साल से मेरे लड़ाई लड़ने के बावजूद ऐसा नहीं हो पा रहा. मुख्यमंत्री ने बजट में घोषणा की थी कि 10-20 बच्चे भी अगर उर्दू के होंगे तो उन्हें उर्दू पढ़ाई जाएगी, लेकिन वह हो नहीं पा रहा है. वाजिब अली ने कहा कि हमारे लोगों के ट्रांसफर नहीं हो रहे हैं, जबकि मंत्री अपने गृह जिलों में ट्रांसफर करवा लेते हैं. उन्होंने कहा कि हमारे बच्चे 20-20 साल से 800-1000 किलोमीटर दूर नौकरी कर रहे हैं. पार्टी के कार्यकर्ता उनके परिवार के लोग जो पार्टी के साथ हैं, जिन्होंने कांग्रेस को वोट दिए और मेहनत करके सरकार बनाई, आज उम्मीद रखते हैं कि सरकार से उन्हें राहत मिले, लेकिन वह नहीं हो पा रहा है.

180 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.