Skin Care : बारिश में भी आपकी त्वचा करेगी ग्लो , ये टिप्स करे फोलो

The Fact India : मानसून में त्वचा की विशेष देखभाल बहुत जरूरी होती है. इस मौसम में धूप में बाहर निकलने, प्रदूषण, तनाव तथा अन्य कारणों की वजह से त्वचा (Skin Care) का कुदरती निखार कम हो जाता है और वह अपनी चमक खोने लगती है. जब मानसून आता है तब सब पहली बारिश में भींगना चाहते है. हर कोई बारिश में भींगकर मजा लेना चाहता है. बारिश होने के कारण नमी बढ़ जाता है जो हमारी त्वचा पर भी गहरा प्रभाव डालता है. इस मौसम में त्वचा सम्बंधी रोग, संक्रमण और जलन आदि का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. इस दौरान हवा में मौजूद नमीं शरीर में मोश्चर के स्त्राव को बढ़ाती है. जिसकी वजह से बारिश में त्वचा (Skin Care) और तेलीय हो जाती है. जिसकी वजह से त्वचा में विटामिन सी की कमी आ जाती है. इस समय में त्वचा में फंगस जैसी कई तरह की समस्या आ जाती है. जैसे चेहरे पर खुजली, चकते, दाद और चेहरा बेरंग हो जाता है. वहीं जिनकी तेलीय त्वचा होती है उनके चेहरे पर फोड़े फुंसी हो जाते हैं. हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जिससे समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है.

मानसून में ऐसे करें अपनी त्वचा की सुरक्षा
मानसून के समय जब भी आपका चेहरा गीला हो तो सबसे पहले उसे टीशू पेपर या किसी साफ कॉटन से साफ करें. अगर रूखापन महसूस हो तो उसे मॉश्चराइजर लगा लें. चेहरे पर एक दिन में लगभग दो बार चेहरे पर आइस क्यूब रगड़ें. पैरों पर भी इसका असर ज्यादा देखने के मिलता है. इसलिए ये उपाय पैरों के लिए भी करें. ऐसा करने से चेहरे पर पसीना नहीं आता और नमीं की वजह से पिंपल्स नहीं आते. चेहरे को चमकदार और चिकना बनाए रखने के लिए यह जरूरी है कि त्वचा की सतह पर अत्यधिक तेल न रहे. इसके लिए घर पर बनाए पैक का प्रयोग करते रहें.

Raksha Bandhan 2022 : रक्षाबंधन पर बहनें नौ ग्रहों से मांगती है भाई की खुशहाली

मानसून के समय सनस्क्रीन का करें इस्तेमाल
मानसून के समय नमीं में अधिकता के कारण त्वचा में झुर्रियां, बालों का बेजान होना आदि समस्याएं होती हैं. इसके लिए सबसे जरूरी उपाय यही है कि जब भी बादल छाएं या बारिश होने जैसा मौसम बने तब आप सनस्क्रीन का उपयोग जरूर करें. अक्सर लोग इस मौसम में सनस्क्रीन लगाना जरूरी नहीं समझते, लेकिन बारिश के मौसम में वाटरप्रूफ सनस्क्रीन लगाना बेहद जरूरी होता है. सामान्य त्वचा वालों को ज्यादा एसपीएफ वाला सनस्क्रीन इस्तेमाल करना चाहिए और तैलीय त्वचा वालों को मिनरल फिलरवाला सनस्क्रीन लगाना चाहिए. इसके साथ ही आप खुद को सूखा बनाए रखने का प्रयत्न करें.

कैमिकल प्रोडक्ट्स से रहें दूर
विशेषज्ञ कहते हैं कि इस मौसम में ज्यादा कैमिकल से दूर रहें और प्राकृतिक टोनर जैसे कोकोनट वॉटर, दही आदि का प्रयोग करें. तरल पदार्थों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें. एलोवेरा जूस पिएं. साबुन आधारित क्लींजर से दूरी बनाए रखें. ऐसे प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से बचें, जिन में फ्रूट एसिड, तेज खुशबू, कलर, एंटीबैक्टीरियल जैसे तत्व मौजूद हों. कठोर कैमिकल वाले साबुन, शैंपू, बॉडी क्लींजर, क्रीम, बाथ ऑयल आदि से बचें.

159 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.