कोरोना का खतरा टला नहीं, इंसानों को डराने आ गया बर्ड फ्लू

प्रदीप आजाद

The Fact India: देश के साथ साथ सूबे की सरकार के लिए अब एक ओर चुनौती तैयार है। यूं तो सरकारों के लिए चुनौतियां हमेशा से ही रहती है लेकिन इस बार पहले कोरोना से लड़ा गया या यूं कहें लड़ा जा रहा है और अब जब कोरोना पर कुछ काबू पाया तो सामने आ गया बर्ड फ्लू (Bird flu) का संकट। राजस्थान समेत हिंदुस्तान के कई राज्यों में इस वक्त तेजी से बर्ड फ्लू (Bird flu) का संकट सामने आ गया है।

चुनाव से पहले CM ममता को एक और झटका, खेल मंत्री ने दिया इस्तीफा

पहले लोग कोरोना से परेशान थे और सिर पर बर्ड फ्लू के संकट ने चिंताएं ओर बढा दी है लेकिन हैरानी की बात देखिए तेजी से विकास कर रहे हमारे हिंदुस्तान में पक्षियों की मौत की वजह जानने के लिए केवल एक ही लैब है जो मध्यप्रदेश के भोपाल में है। हिंदुस्तान के तमाम राज्यों से जांच के लिए मृत पक्षियों कें सैम्पल्स को भोपाल भेजा जा रहा है। जाहिर है जब जांच का लोड़ बढेगा तो जांच रिपोर्ट तैयार होने में कितना वक्त लगेगा। आसानी से समझा जा सकता है। अब बर्ड फ्लू का कहर कितना हावी हो रहा है वो इसी से समझा जा सकता है कि हिमाचल प्रदेश में तो मुर्गियों और अण्डों की बिक्री पर भी रोक लगा दी गई है।

अब हम देश के दूसरे राज्यों में फैले इस संकट पर बात करें उससे पहले चर्चा कर लेते हैं राजस्थान में कहर बरपा रहे इस बर्ड फ्लू संकट की। दरअसल अभी तक सूबे में करीब 525 से ज्यादा पक्षियों की मौत हो चुकी है। जिनमें करीब 475 कौवे बताए जा रहे हैं। हालांकि अभी तक सिर्फ 7 सैंपल की ही रिपोर्ट आई है। जिनमें बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। राजस्थान के जयपुर, सवाईमाधोपुर, बीकानेर, झालावाड़, बारां, पाली और बांसवाड़ा में भी अभी तक कई पक्षियों की मौत हो चुकी है। अब जाहिर है कि हर जगह से सैम्पल भोपाल पहुंचेंगे तो जांच रिपोर्ट तैयार होने में भी वक्त लगना तय है।

मुरादनगर श्मशान हादसे का मुख्य आरोपी अजय त्यागी गिरफ्तार, हादसे में 25 लोगों की हुई थी मौत

हालांकि कहा ये भी जा रहा है कि  राजस्थान में मरे पक्षियों में सिर्फ एच 5 इन्फ्लूएंजा ही मिला है जो ज्यादा घातक नहीं है। इसका सबसे घातक स्ट्रेन एच 5 एन 1 है और अगर पक्षियों से यह वायरस इंसानों में चला जाए तो महामारी का रूप ले सकता है। अब हिंदुस्तान के दूसरे राज्यों की बात करें लेकिन उससे पहले आपको ये भी बता देते हैं कि अगर किसी पक्षी में बर्ड फ्लू (Bird flu) होता है तो उसे कैसे पहचाना जाए।