यातायात नियमों के उल्लघंन पर बाल वाहिनी के चालान, अभियान जारी

जयपुर शहर के विभिन्न इलाकों में बाल वाहिनी अभियान के तहत विशेष चेकिंग किया गया। इस अभियान के दौरान चेकिंग के लिए के लिए तीन-तीन पुलिस निरीक्षकों की आठ टीमों का गठन किया गया। इन टीमों के द्वारा 24 इन्सपेक्टर द्वारा शहर के 16 विद्यालयों पर सख्ती से कार्रवाई की गई। विद्यालयों के बाल वाहिनी के हर नियमों को सख्ती से जांच की गई।

जर्मन पिस्टल और 16 जिंदा कारतूस के साथ हार्डकोर अपराधी गिरफ्तार

बता दें कि इस बाल वाहिनी अभियान के तहत 16 व 17 अक्टूबर दो दिनों के भीतर 20 बड़ी बस, 210 मिनीबस, 93 मैजिक, 58 ऑटोरिक्शा, 8 कार, 133 दुपहिया वाहन, 92 अन्य वाहनों सहित कुल 614 वाहन चालकों के विरूद्ध संसोधित एम.वी.एक्ट 2019 के तहत कार्रवाई की गई।

Indus river water: पीएम मोदी के बयान पर एक बार फिर बौखलाया पाकिस्तान

इन बाल वाहिनी नियमों में संसोधित एम. वी. एक्ट 2019 के तहत बाल वाहिनी के गोल्डन पीला रंग न होने, स्कूल बाल वाहिनी अंकित न होने, हेल्प लाईन नम्बर अंकित न होने, वाहन में सुरक्षा उपकरण प्राथमिक उपचार पेटी न होने, चालक का लाईसेंस, यूनीफार्म, क्षमता से अधिक सवारी, आदि नियमों की नियमानुसार सख्ती से कार्रवाई की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.