सिद्धू से खटास के बीच कैप्टन से मिले सीएम चन्नी, बेटा-बहू भी रहे साथ

The Fact India: पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिलने मोहाली में उनके फॉर्म हाउस पर मुलाकात की. फिलहाल कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chenni-Captain) से उनकी मुलाकात का एजेंडा सामने नहीं आया है.

पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू (Chenni-Captain) और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के रिश्तों में खटास आने के बाद प्रदेश कांग्रेस में नए समीकरण बनते दिख रहे हैं. मुख्यमंत्री बनने के बाद चन्नी गुरुवार को पहली बार पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुलाकात की. चन्नी के साथ उनकी पत्नी और बेटा-बहू भी मौजूद रहे. कैप्टन अमरिंदर को हटाकर ही चन्नी को CM बनाया गया था. चन्नी ने जिस दिन शपथ ली, उसी दिन कैप्टन ने उन्हें लंच पर न्योता दिया था. हालांकि उन्होंने तब व्यस्तता का हवाला देते हुए इनकार कर दिया था.

महानवमी की जगह रामनवमी की बधाई देने पर ट्रोल हुए अखिलेश यादव, भाजपा ने कसा तंज

सीएम चरणजीत चन्नी और सिद्धू के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा. सिद्धू लगातार उनकी सरकार पर हमले कर रहे हैं. कभी डीजीपी और एडवोकेट जनरल की नियुक्ति के बहाने तो कभी हाईकमान के एजेंडे के बहाने सिद्धू CM चन्नी पर निशाना साधते रहे हैं. इसी वजह से दोनों के बीच दूरियां बढ़ती जा रही हैं. माना जा रहा है कि इसी वजह से चन्नी की कैप्टन से मुलाकात की जमीन तैयार हुई.

बता दें कि, केंद्र सरकार ने पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा से 50 किलोमीटर के दायरे में तलाशी लेने और गिरफ्तारी करने का अधिकार बीएसफ को दे दिया है. पहले यह दायरा 15 किमी तक ही सीमित था. अब इसे 15 से बढ़ाकर 50 किलोमीटर किए जाने के बाद पंजाब में सियासी घमासान शुरू हो गया है. हाल ही में सीएम बने चरणजीत सिंह चन्नी ने केंद्र से फौरन फैसला वापस लेने की मांग की, तो पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर ने केंद्र के फैसले को सही करार दिया है.