कोचिंग गुरु वीके बंसल का निधन, कोरोना से थे संक्रमित

Coaching

The Fact India: देश और दुनिया में कोटा कोचिंग (Coaching) क्लासेज को पहचान दिलाने वाले कोचिंग गुरु वीके बंसल का निधन हो गया है. बंसल कोविड-19 के संक्रमण से संक्रमित थे. इलाज के दौरान सोमवार का उनका निधन हो गया. बंसल के निधन की खबर मिलने के बाद कोचिंग इंडस्ट्रीज शहर में शोक की लहर छा गई. वीके बंसल का निधन की खबर जैसे-जैसे सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रही है वैसे-वैसे उनके जानने वाले परिचित और उनके स्टूडेंट उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं.

कोरोना से बचना है तो संभल जाइए,CM बोले- कोरोना की दूसरी लहर में हालात भयावह

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भी दिवंगत हुए वीके बंसल को श्रद्धांजलि दी है. लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि बंसल क्लासेज के निदेशक वीके बंसल का निधन समूचे शैक्षणिक जगत के लिए अपूरणीय क्षति है. उन्होंने अपना जीवन शिक्षा की उन्नति और विद्यार्थियों के उन्नयन को समर्पित किया. उनसे पढ़े हजारों विद्यार्थी विश्व में भारत का नाम रोशन कर रहे हैं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें.

कोटा कोचिंग की नींव रखने वाले वीके बंसल का जन्म झांसी में हुआ था। लखनऊ में पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने कोटा में नौकरी की शुरुआत की। और फिर देखते ही देखते कोटा को दुनियाभर में एजुकेशन सिटी के रूप में पहचान दिलाई। बंसल की मेहनत से जब कोटा को पहला आईआईटियंस और आईआईटी-जेईई का टॉपर मिला तो उसके बाद कोटा कोचिंग हब की ख्याति दिनोंदिन बढ़ती गई। और आज 25 साल बाद भी कोटा का जलवा बरकरार है।

यही वजह है कि हर साल देश दुनिया के करीब पौने दो लाख स्टूडेंट कोटा में आईआईटी और मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करने आते हैं. कोचिंग इंडस्ट्रीज को अब तक का सबसे बड़ा झटका कोविड-19 के कारण लगा है. लेकिन उम्मीद है कि हालात समान्य होते ही शिक्षा नगरी अपनी सफलता के इतिहास को फिर से दोहरायेगी.