एक्सप्रेस वे की जमीन पर किसानों ने उगाई फसल, प्रशासन हटाने पहुंचे तो चले लाठी-डंडे

The Fact India: राजस्थान के दौसा से गुजर दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे (DMIC) के निर्माण के हटाए जा रहे अतिक्रमण को लेकर बवाल मचा गया. इस दौरान किसानों और पुलिस के बीच जमकर लाठी डंडे चले. जिसके चलते इलाके में अफरातफरी का माहौल बन गया. पुलिस ने किसानों को दौड़ा-दौड़ा मारा. जिसके चलते कई किसान भी घायल हो गए. जिन्हे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

रॉबर्ट वाड्रा ने मोती डूंगरी के दर्शन के बाद किया राजनीति में आने का ऐलान

दरअसल मामला दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे (DMIC) के लिए अधिग्रहित की गई जमीन से जुड़ा हुआ है. किसानों का कहना है उन्होंने जब तक एक्सप्रेस वे नहीं बन रहा था तो उन्होंने खेतों में बुवाई कर दी. अब फसल पकने को तैयार है. ऐसे में पुलिस और प्रशासन अमला अतिक्रमण हटाने पहुंच गया. ऐसे फसल बचाने के लिए महिलाओं ने विरोध के स्वरूप फंदा बना कर खड़ी हो गई.

Whatsapp पर लगेगा बैन! केंद्र की सोशल मीडिया की गाइडलाइन का क्या होगा असर?

किसानों का कहना है कि उन्होंने बड़ी मेहनत से फसलों को तैयार किया अब उन पर बुलडोजर चलने इ उनकी महीनों की मेहनत ख़राब हो जाएगी. महिलाओं ने प्रशासन को चेतावनी दी कि यदि उनकी फसल नष्ट की गई तो वह जान दे देंगी. जिसके बाद बात समझाइश पर पहुंच गई. लेकिन अचानक प्रशासनिक अमला फसल नष्ट करने पर अड़ गया. जिसके बाद मौके पर किसानों और पुलिस के बीच विवाद हो गया. देखते ही देखते यह विवाद लाठी-भाटा जंग में बदल गया और वहां हुडदंग मच गया.