ED को मिला ‘नेशनल हेराल्ड’ केस का हवाला लिंक , सोनिया-राहुल के बयानों की फिर होगी जांच

Sonia-Rahul
Sonia-Rahul

नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय की ओर से लगातार जांच की जा रही है, साथ ही मामले से जुड़े कई शीर्ष नेताओं से पूछताछ भी जा रही है. पिछले महीने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से कई दिनों की लंबी पूछताछ के बाद ईडी ने हेराल्ड हाउस में फिर से तलाशी अभियान शुरू कर दिया है. बता दें कि बीते बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए ईडी के अधिकारियों ने नेशनल हेराल्ड दफ्तर के यंग इंडिया लिमिटेड ऑफिस को सील कर दिया था. जानकारी के मुताबिक जांच एजेंसी को हवाला लिंक के भी सबूत मिले हैं. वहीं, ईडी की कार्रवाई को लेकर विपक्ष ने संसद में जमकर हंगामा काटा. मामला इतना बढ़ गया कि दोनों सदनों की कार्यवाही को कल तक के लिए स्थगित करना पड़ा.

कहां मिला हवाला लिंक
ईडी सूत्रों ने बताया कि तलाशी के दौरान जांच एजेंसी ने यंग इंडिया लिमिटेड दफ्तर से दस्तावेजी सबूत बरामद किए, जो मुंबई और कोलकाता के हवाला ऑपरेटरों से हवाला लेनदेन को दर्शाता है.

मैं नरेंद्र मोदी से नहीं डरताराहुल गाँधी

कॉन्ग्रेस नेता खड़गे ने संसद की कार्यवाही के बीच समन मिलने पर सवाल खड़ा किया. हालाँकि, ED को जो सबूत मिले हैं उसमें कोलकाता के हवाला कारोबारी के साथ लेनदेन की बात भी पता चली है. ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़ी संस्थाओं और तीसरे पक्षों के बीच इस तरह के अवैध लेनदेन हुए. वहीं राहुल गाँधी ने मीडिया के सामने ‘मैं नरेंद्र मोदी से नहीं डरता’ बयान देते हुए कहा कि उन्हें डरा-धमका कर चुप नहीं कराया जा सकता है.

सोनिया-राहुल के बयानों की जांच
ईडी सूत्रों का यह भी कहना है कि जांच एजेंसी राहुल गांधी और सोनिया गांधी के बयानों की दोबारा जांच कर रही है. ईडी सोनिया गांधी और राहुल के इस दावे से सहमत नहीं है कि एजेएल और यंग इंडियन के संबंध में सभी वित्तीय निर्णय मोती लाल वोरा द्वारा किए गए थे. साथ ही, ईडी सोनिया और राहुल गांधी के इस स्पष्टीकरण से सहमत नहीं है कि उन्हें यंग इंडियन से इसकी धारा 25 कंपनी की अधिनियम फर्म के रूप में मौद्रिक लाभ नहीं मिला.

47 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.