गिलोय बढ़ाता है इम्यूनिटी, कोरोना संक्रमण से लड़ने में करेगा मदद

The Fact India: दुनिया भर में कोरोना का खतरा तेजी से बढ़ रहा हैं. इससे लड़ने के लिए हमें हमारी इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाना बेहद जरुरी है. इसके लिए आप गिलोय का सेवन कर सकते हैं. गिलोय (Giloy) को गुडूची और अमृता के नाम से भी जाना जाता है, गिलोय का इस्तेमाल आयूर्वेद में औषधि के रुप में किया जाता हैं यह अनेक बीमारियों को जड़ से खत्म करने की शक्ति रखती है. यह जड़ी बूटी शरीर में इम्यूनिटी पॉवर यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती हैं. गिलोय के रस का सेवन करने से हमें कई बीमारियों से छुटकारा मिलता हैं. आज हम आपको बताएंगे कि गिलोय किन-किन रोगों से बचाने में मदद करती हैं. इसका रस आप कैसे तैयार कर सकते है-

गिलोय बढ़ाता है इम्यूनिटी

गिलोय शरीर में इम्यूनिटी पॉवर बढ़ाती है. इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स के गुण अधिक मात्रा में पाऐ जाते है.जो की फ्री- रेडिकल्स से लड़ने में मदद करते है और ये कोशिकाओं को स्वस्थ एंव बीमारियों से दूर रखती है. इस समय कोरोना महामारी से लड़ने के लिए इम्यूनिटी पॉवर स्ट्रॉन्ग होना जरुरी हैं इसके लिए गिलोय सबसे आसान तरीका है.         

बुखार के लिए देसी इलाज

बार-बार बुखार की समस्या होना इसके लिए आप गिलोय का उपयोग कर सकते है. क्योंकि बुखार रोधी गुण हैं और इसीलिए डेंगू, मलेरिया और स्वाइन फ्लू जैसी अनेक बीमारियों के लक्षणों को कम करने के लिए गिलोय अच्छी मानी जाती है.

कब्ज की समस्या के लिए  गिलोय का उपयोग

कब्ज की समस्या ज्यादातर लोगों को होती है. पाचन में सुधार लाने के लिए गिलोय लाभकारी होती हैं इसके लिए आप गिलोय के रस का सेवन करे.

डायबिटीज मरीजों के लिए गिलोय लाभकारी

गिलोय इम्यूनिटी बढ़ाने कि लिए और डायबिटीज के इलाज के लिए फायदेमंद होती है. गिलोय हाइपोग्लाइसेमिक यौगिक के रुप में कार्य करती है.साथ ही ये टाइप 2 डायबिटीज के इलाज में मददगार होती हैं. ब्ल़ड शुगर के उच्च स्तर को कम करने के लिए गिलोय का जूस मदद करता है.

आंखों की रोशनी के लिए गिलोय

आंखो की रोशनी के लिए गिलोय का सेवन फायदेमंद होता है इससे एजिंग के निशान भी दूर होते हैं साथ ही ये लिवर से जुड़ी बीमारियों और मूत्र में संक्रमण से भी लड़ने में मदद करती है.

गिलोय का रस कैसे बनाएं

गिलोय का रस बनाने के लिए सबसे पहले आप गिलोय की एक फीट लंबी शाखा लें और उसके छोटे छोटे टुकड़े कर लें. अब इसे छील लें. उसके बाद आप डेढ़ से दो इंच के चार गिलोय के टुकड़ें ले और उसे मिक्सर में एक गिलास पानी के साथ पीस लें. जो रस निकला है उसे छान ले उसके बाद आप इसे पी लें. इसका सेवन आप दिन में दो बार कर सकती हैं.