Indian Navy Day 2021: वीर योद्धाओं के शौर्य की याद दिलाता है भारतीय नौसेना दिवस

The Fact India: भारतीय नौसेना दिवस हर साल 4 दिसंबर को मनाया जाता है. नौसेना दिवस (Indian Navy Day) पर हर साल भारत और पाकिस्‍तान के बीच 1971 के युद्ध को याद किया जाता है. इस दिन नौसेना के उन वीर योद्धाओं को भी याद किया जाता है, जिनकी बहादुरी और रण कौशल ने भारत की जीत सुनिश्चित की. पाकिस्तानी की सेना ने 3 दिसंबर को अपने लड़ाकू विमानों के जरिये हम पर हमला किया था. इस हमले के साथ भारत और पाकिस्‍तान के बीच 1971 का युद्ध प्रारंभ हो गया था.

पाकिस्‍तान को ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के जरिये मुंहतोड़ जवाब देने की जिम्‍मेदारी भारतीय नौसेना को सौंपी गई थी. अभियान की शुरुआत में कराची स्थित पाकिस्‍तानी नौसेना के मुख्‍यालय को निशाना बनाया गया और कराची के तट पर मौजूद जहाजों के समूह पर भीषण हमला किया गया. इस युद्ध में पहली बार जहाज पर मार करने वाली एंटी शिप मिसाइल का इस्‍तेमाल किया गया था. भारतीय नौसेना ने अपने पराक्रम से पाकिस्‍तान के कई जहाजों को पानी में डुबो दिया. 

ओमिक्रॉन की भारत में दस्तक, वैक्सीन की जरूर ले दोनों डोज

भारत ने पाकिस्‍तान को 1971 में करारी शिकस्‍त दी थी. नौसेना (Indian Navy Day) के ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के बाद ही पाकिस्‍तान को अपनी हार निश्चित लगने लगी थी और उसकी हिम्‍मत हर अगले क्षण के साथ टूटती जा रही थी. ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के तहत ही भारतीय नौसेना ने 4 दिसंबर, 1971 को कराची के नौसैनिक अड्डे पर हमला किया था. इसी सफल ऑपरेशन के चलते हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है.