ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की CM शिवराज से मुलाकात, कैबिनेट विस्तार को लेकर गरमाई सियासत

The Fact India: मध्य प्रदेश में एक बार फिर से सियासी हलचलें तेज हो गई हैं। सोशल मीडिया पर चर्चा तेज हो गई है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंत्रिमंडल का विस्तार करने वाले हैं। दरअसल राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) से दिल्ली से भोपाल पहुंचे और उनके भोपाल आगमन पर पूर्व मंत्री तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत ने भोपाल एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया जिसके बाद सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) अपने समर्थक विधायकों के साथ निजी कार्यक्रम के लिए रवाना हो गए, साथ ही प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बीडी शर्मा से हुई गुफ्तगू को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

Live Updates: PM मोदी पहुंचे वाराणसी, 2474 करोड़ की 6-लेन परियोजना का किया शुभारंभ

ऐसे में बीजेपी के अंदरखाने में मंत्री पद को लेकर दावेदारी भी तेज हो गई है, वैसे माना जा रहा है कि शिवराज सिंह चौहान का मौजूदा कार्यकाल पूर्व के कार्यकालों की तुलना में उतना आसान नहीं है। हालांकि एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए सिधिया ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है कांग्रेस में जारी कलह पर बोलते हुए सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस का जो अंदर का खेल है अब वो बाहर आ रहा है यहीं कांग्रेस की पृष्ठभूमि रही है और यह उजागर होकर बाहर आ रही है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सच्चाई सामने आ गई है।

वहीं सिंधिया ने सीएम शिवराज से मुलाकात की लेकिन उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार की कोई जल्दी नहीं है ये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का विशेषाधिकार है उन्होंने कहा प्रदेश में जल्द से जल्द विकास का काम शुरू हो, इस पर बात हुई है लेकिन राजनीतिक पंडियों ने सीएम शिवराज और महाराज सिंधिया की मुलाकात को कैबिनेट विस्तार में बीजेपी के पुराने नेताओं और हार हुए सिंधिया खेमे के मंत्रियों के एजडस्टमेंट से जोड़ कर देख रहे हैं।

Farmers Protest: केंद्रीय मंत्री ट्वीट कर बोले- एमएसपी रहेगी जारी, मंडी नहीं होगी खत्म

कयास लगाए जा रहे है कि सिंधिया इस दौरान विधायक तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को मंत्री बनाए जाने समेत पूर्व मंत्री इमरती देवी और अन्य के पुनर्वास पर चर्चाएं हुई है अब बीजेपी नेताओं और सिंधिया समर्थकों को बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति घोषित होने का बेसब्री से इंतजार है, उम्मीद है कि प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा जल्द ही टीम की घोषणा करेंगे।

जिसमें राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के 4-5 समर्थकों को जगह दी जा सकती है लेकिन इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश कार्यकारिणी में बीजेपी के सीनियर नेताओं को पद देकर संतुष्ट करना चाहते हैं ताकि आगे होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार और ज्योतिरादित्य सिंधिया एडजस्ट करने में कोई दिक्कत ना हो। बहरहाल महाराज सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह चौहान की मुलाकात के बाद प्रदेश का सियासी पारा चढ़ा हुआ है और जल्द ही कैबिनेट विस्तार होने की उम्मीद लगाए जा रहे हैं।